व्हाइट हाउस में जाने पर पहले ही दिन ओबामा के कई फैसलों को रद्द कर देंगे ट्रंप!

भाषा
Updated: January 2, 2017, 7:14 PM IST
व्हाइट हाउस में जाने पर पहले ही दिन ओबामा के कई फैसलों को रद्द कर देंगे ट्रंप!
Photo - getty images
भाषा
Updated: January 2, 2017, 7:14 PM IST
वाशिंगटनअमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के एक निकट सहयोगी ने आज कहा कि व्हाइट हाउस में दाखिल होने के पहले दिन ही ट्रंप वर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा के उन कई कार्यकारी फैसलों को पलट देंगे, जिनके बारे में उनको लगता है कि इनसे आर्थिक प्रगति और रोजगार सृजन दोनों प्रभावित हुए हैं।

ट्रंप के होने वाले व्हाइट हाउस प्रवक्ता सीन स्पाइसर ने एबीसी न्यूज के कार्यक्रम ‘द वीक’ में कहा कि ट्रंप तत्काल उन कई कदमों को निरस्त करेंगे जिन्हें मौजूदा प्रशासन की ओर से बीते आठ माह में उठाया गया है और जिनके कारण आर्थिक विकास एवं रोजगार सृजन बाधित हुआ है। स्पाइसर ने कहा कि 20 जनवरी को शपथ ग्रहण के तत्काल बाद जो दो कदम उठाए जाएंगे, उनमें से यह एक होगा। उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि ओबामा के किन कार्यकारी कदमों को ट्रंप निरस्त करेंगे। ट्रंप ओबामा प्रशासन की ओर से आव्रजन, ऊर्जा नियमन और विदेश नीति को लेकर उठाए गए कुछ कदमों की आलोचना करते रहे हैं।

स्पाइसर से सवाल किया गया कि 20 जनवरी को ट्रंप के पदभार संभालने के बाद जनता उनसे किस ‘एक बड़ी चीज’ की उम्मीद कर सकती है? उन्होंने कहा, ‘‘यह कोई एक बड़ी चीज नहीं होगी। ये कई बड़ी चीजें होंगी। जब एबीसी के साक्षात्कारकर्ता जोनाथन कार्ल ने पूछा कि क्या ट्रंप बड़े नीतिगत बयानों को ट्विटर पर डाल देने के अजीबोगरीब और विवादित रुख को जारी रखेंगे, तो स्पाइसर ने कहा कि हां, क्यों नहीं। उन्होंने कहा कि मैं पूरे सम्मान के साथ कह रहा हूं कि मुझे लगता है कि मुख्यधारा के मीडिया को इस बात से परेशानी होती है कि सोशल मीडिया पर 4.5 करोड़ से ज्यादा लोग ट्रंप को फॉलो करते हैं और वह इन लोगों के साथ सीधा संवाद कर सकते हैं।

कार्ल ने स्पाइसर से बार-बार पूछा कि क्या ट्रंप अमेरिकी चुनाव में दखलअंदाजी के लिए मॉस्को को दंडित करने के लिए मौजूदा राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा उठाए गए कदमों को उलट सकते हैं? स्पाइसर ने कहा कि ओबामा का कदम संभवत: राजनीतिक प्रतिशोध  था और इसलिए बेहद कड़ा था। उन्होंने कहा कि जब तक इस मुद्दे पर खुफिया एजेंसियों की ओर से जानकारी नहीं मिल जाती, तब तक ट्रंप कोई भी फैसला लेने से बचेंगे।
First published: January 2, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर