लंदन: भारतीय रेस्टॉरेंट में इंसान का मांस परोसने की अफवाह

भाषा
Updated: May 19, 2017, 4:07 PM IST
लंदन: भारतीय रेस्टॉरेंट में इंसान का मांस परोसने की अफवाह
प्रतीकात्मक फोटो
भाषा
Updated: May 19, 2017, 4:07 PM IST
ब्रिटेन के लंदन में एक भारतीय रेस्टोरेंट पर बंद होने का खतरा मंडरा रहा है. एक फेसबुक पोस्ट में ये दावा किया गया था कि इस रेस्टोरेंट में इंसान का मांस परोसा गया था. 'करी ट्विस्ट' नाम के इस रेस्टोरेंट की मालकिन शिन्रा बेगम को स्थानीय लोगों ने इमारत तोड़ने की धमकी दी है. महिला ने पुलिस की मदद मांगी है.

मेट्रो नाम की एक वेबसाइट के अनुसार, प्रैंक न्यूज वेबसाइट के फेसबुक पेज पर यूजर्स फर्जी न्यूज शेयर कर सकते हैं. इस पेज पर किसी ने लिखा कि करी ट्विस्ट में इंसानों का मांस परोसा गया. इस पोस्ट के बाद लोग रेस्टोरेंट बंद करने की धमकी देने लगे.

रेस्टोरेंट मालिक शिन्रा ने बताया कि एक व्यक्ति ने कहा कि अगर हमारे शटर उठे हुए नहीं होते तो उसने खिड़की के शीशे तोड़ दिए होते. एक व्यक्ति ने पुलिस में शिकायत कर दी. शिन्रा ने बताया कि इस झूठी खबर ने उनके व्यवसाय को बुरी तरह प्रभावित किया है. लोग लगातार उन्हें धमकी दे रहे हैं. शिन्रा ने कहा कि ये उनके साथ नहीं हुआ होता तो शायद वो हंस रही होतीं.

उन्होंने कहा कि ये बात सब जगह फैल गई है और लोग इस पर विश्वास कर रहे हैं. ये रेस्टोरेंट 60 सालों से चल रहा है और किसी के इस तरह लिख देने भर से ये बंद हो सकता है. शिन्रा ने बताया कि एक पैराग्राफ के उस आर्टिकल में स्पेलिंग और ग्रामर की ढेर सारी गलतियां थीं फिर भी लोगों ने उसे सही मान लिया.

फेसबुक पर ये पोस्ट 'एशियाई रेस्टोरेंट इंसान का मांस परोसने के कारण बंद' शीषर्क के साथ शेयर किया गया था. पोस्ट में लिखा है - भारतीय रेस्टोरेंट के मालिक राजन पटेल को अपने रेस्टोरेंट में भोजन बनाने वाली रेसेपी में इंसान का मांस इस्तेमाल करने के आरोप में कल रात गिरफ्तार कर लिया गया, ये भी कहा जा रहा है कि रेस्टोरेंट में इंसान के नौ फ्रोजन शव पाए गए जिनका इस्तेमाल मीट बनाने में होना था. राजन पटेल पूछताछ के लिए हिरासत में हैं और रेस्टोरेंट अभी बंद कर दिया गया है. गौरतलब है कि प्रैंक न्यूज साइट में फर्जी स्टोरीज और फर्जी रिपोर्ट होती हैं.

ये भी पढ़ेंः

लखनऊ के मशहूर टुंडे कबाबी पर लौटी रौनक, मिलने लगा है गलौटी कबाब

रेस्टोरेंट जहां शहीदों के परिवार को नहीं देना पड़ता बिल, सोशल मीडिया पर हो रही तारीफ
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर