नॉर्थ कोरिया ने यूएस को न्यूक्लियर हमले की धमकी दी

News18Hindi
Updated: April 18, 2017, 12:24 PM IST
नॉर्थ कोरिया ने यूएस को न्यूक्लियर हमले की धमकी दी
Image Source: PTI File Photo
News18Hindi
Updated: April 18, 2017, 12:24 PM IST
नॉर्थ कोरिया ने स्पष्ट कर दिया है कि वो अमेरिका की धमकियों से डरने वाला नहीं है और वह साप्ताहिक, मासिक और वार्षिक मिलाइल परीक्षण जारी रखेगा. नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्री हान सोंग रियोल ने कहा कि हम किसी के दबाव में आने वाले नहीं हैं. हम अपनी मिसाइल नीति में फिलहाल किसी तरह का बदलाव लाने के पक्ष में नहीं हैं और पहले से तय तारीखों पर अब भी मिसाइल टेस्ट जारी रहेंगे.

लंदन में 3 माह के बच्चे पर आतंकी होने का शक, प्लेन में चढ़ने से रोका

क्या कहा नॉर्थ कोरिया ने ? 

बीबीसी से बातचीत में प्योंगयोंग ने कहा कि अगर अमेरिका अगर सैन्य ऑप्शन की तरफ जाता है तो युद्ध की स्थिति उत्पन्न होने की पूरी आशंका है. हान ने चुनौती दी कि अब नॉर्थ कोरिया की सहनशक्ति ख़त्म हो गई है और अब वो किसी की दादागिरी सहन नहीं करेगा.

हमारी तरह का होगा न्यूक्लियर हमला 

उन्होंने यह भी कहा कि अगर हम अमेरिका पर हमला करना चाहेंगे तो ये हमारी तरह का एक न्यूक्लीयर हमला हो सकता है. ख़बरों के मुताबिक नॉर्थ कोरिया जल्द ही अपना छठा न्यूक्लीयर टेस्ट करने वाला है.

सिख को पगड़ी के कारण प्लेन में चढ़ने से रोका

अमेरिका ने दी थी धमकी

बता दें कि नॉर्थ कोरिया की बढ़ती सैन्य गतिविधियों और मिसाइल नीति के खिलाफ अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने कड़ा बयान दिया था. ख़बरों के मुताबिक नॉर्थ कोरिया ने बीते दिनों एक बैलेस्टिक मिसाइल का असफल परीक्षण किया था. पेंस बीते दिनों सियोल में ही मौजूद थे और उन्होंने नॉर्थ कोरिया की मिसाइल नीति की आलोचना की थी.

उत्तर कोरिया ने क्‍यों दागी 'असफल मिसाइल'?

रूस भी है अमेरिका से नाराज़

सीरिया के बाद अमेरिका और रूस नॉर्थ कोरिया के मसले पर भी आमने-सामने आ गए हैं. रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लारोव ने माइक पेंस के बयान को गैरज़रूरी बताया है. लारोव ने कहा कि अमेरिका ने सीरिया और अफगानिस्तान में जिस तरह का व्यवहार दिखाया है वो ट्रंप प्रशासन के रवैये की पोल दुनिया के सामने खोल रहा है.

बता दें कि रूस नॉर्थ कोरिया का स्ट्रेटिजिक पार्टनर रहा है. बीते दिनों जब अमेरिका ने अपना सैन्य बेड़ा समुद्र में तैनात किया तो रूस ने भी अपने सैन्य बेड़े को मदद के लिए आगे बढ़ने के आदेश जारी कर दिए थे.
First published: April 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर