फ्रांस के रिसर्चर्स ने खोजा वानाक्राइ रेन्समवेयर से बचाव का टूल

News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 8:48 AM IST
फ्रांस के रिसर्चर्स ने खोजा वानाक्राइ रेन्समवेयर से बचाव का टूल
फ्रांस के रिसर्चर्स ने शुक्रवार को वानाक्राइ रेन्समवेयर वायरस से बचाव का टूल खोज लिया है
News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 8:48 AM IST
फ्रांस के रिसर्चर्स ने वानाक्राइ रेन्समवेयर वायरस से बचाव का टूल खोज लिया है. इसका नाम वानाकीवी रखा गया है. टेक्निशियन इससे विंडोज फाइल को इन्सक्रिप्ट होने से बचा सकेंगे. बताते चलें कि दुनिया भर में वानाक्राइ की शुरुआत पिछले शुक्रवार को हुई थी. इस वायरस ने 150 देश के तकरीबन तीन लाख कंप्यूटर को अब तक अपना शिकार बनाया है.

हैकर्स ने धमकी दी थी कि फिरौती की रकम 300 से लेकर 600 डॉलर नहीं देने पर वानाक्राई रेन्समवेयर के शिकार सिस्टम को एक हफ्ते में बंद कर दिया जाएगा. हैकर्स इस रकम को बिटक्वाइंस के जरिए देने की मांग कर रहे हैं. इसके बाद से दुनिया भर के रिसर्चर इससे बचाव की कोशिश में लग गए थे. उन्हें डर था कि समय बीतने के बाद इससे बच पाना काफी मुश्किल है.

वायरस से बचाएगा फ्री टूल
रिसर्चर की इस टीम में सिक्युरिटी एक्सपर्ट एडरिन गुनेट, इंटरनेशनल हैकर मैथ्यू सुसे और बेंजामिन डिप्ले शामिल थे. इन्होंने दिन-रात एक करके वानाकीवी की खोज की है. यह एक फ्री टूल है, जो कि रेन्समवेयर वानाक्राइ जैसे वायर से बचाव करेगा. रिसर्चर्स का कहना है कि जो कंप्यूटर वानाक्राइ का शिकार होने के बाद अब तक रीबूट नहीं हुए हैं और जिन कंप्यूटरों को पूरी तरह से बंद नहीं किया गया है, यह टूल उन पर ही काम करेगा.

कई देशों की खुफिया एजेंसियो ने किया संपर्क
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वानाकीवी विंडोज-7 और विंडोज के पुराने वर्जन विंडोज XP, विंडोज 2003, विंडोज 2008 और विंडोज विस्टा पर ही अभी काम कर रहा है. रिसर्चर्स का दावा है कि वानाकीवी को लेकर कई देशों की खुफिया एजेंसियो ने उनसे संपर्क किया है. इसमें भारत भी शामिल है.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर