बलूचिस्तान में हाफिज सईद फेल, रैली में नहीं जुटी भीड़

News18India
Updated: December 25, 2016, 10:33 PM IST
News18India
Updated: December 25, 2016, 10:33 PM IST
बलूचिस्तान। बलूचिस्तान में आतंकी हाफिज सईद की बड़ी साजिश नाकाम हो गई है। बूलचिस्तान में बढ़ते विरोध के चलते पाक सरकार और आईएसआई ने आतंकी हाफिज को यहां भेजा था। जिससे वो भारत के खिलाफ माहौल तैयार कर सके लेकिन उसकी ये साजिश नाकाम हो गई, क्योंकि आतंकी हाफिज की हर रैली फ्लॉप रही। ये खबर पाक के मशहूर अखबार डॉन में भी छपी है।

पाकिस्तान के अखबार डॉन की मानें तो बलूचिस्तान में 21 दिसंबर को की गई आतंकवादी हाफिज सईद की यह रैली पूरी तरह फेल रही। डॉन में छपी खबर के मुताबिक बलूचिस्तान का जेयुआई-एफ कंट्रोल वाला एरिया पूरी तरह सेक्युलर है। पाकिस्तान ने वहां कि निर्वासित बलूच नेता बुगती जो कि शहीद बलूच राष्ट्रवादी नेता नवाब अकबर खां बुगती के उत्तराधिकारी हैं, के लिए हाफिज सईद की रैली के लिए उनके चचेरे भाई शहजान बुगती को चुना लेकिन पाकिस्तान को हाफिज सईद और शहजान को उतारने को कोई फायदा नहीं मिल रहा है क्योंकि दोनों का वहां पर कोई आधार नहीं है।

बलूचिस्तान में हाफिज की रैली फेल होने से यह बात साफ होती है कि वहां के लोग बुगती को ही अपना नेता मानते हैं और वहां के लोग हाफिज सईद जैसे लोगों की शरण में ना तो रहना चाहते हैं ना ही उनकी रैलियों में शामिल होना चाहते हैं। इसके बाद से भारत के उस रुख को मजबूती मिली है कि बलूचिस्तान में मानवाधिकारों का हनन हो रहा है और लोग अब आतंकियों के साथ नहीं हैं। बता दें कि हाफिज जब पिछली बार अफगानिस्तान पर रैली करने गया था तब उसने कहा था कि हमारी रैली से भारत को तकलीफ होती है, वो नहीं चाहता कि हम रैली करें।
First published: December 25, 2016
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर