भारतीय मूल की अमेरिकी महिला ने कुबूला, किया था अरबों डॉलर का घोटाला


Updated: May 19, 2017, 12:00 PM IST
भारतीय मूल की अमेरिकी महिला ने कुबूला, किया था अरबों डॉलर का घोटाला
File Photo

Updated: May 19, 2017, 12:00 PM IST
अलबामा की भारतीय मूल की एक अमेरिकी महिला ने कई अरब डॉलर के घोटाले में शामिल होना स्वीकार किया है. इस घोटाले में अमेरिका के लोगों के साथ भारत में स्थित कॉल सेंटरों ने धोखाधड़ी की थी.
नीलम पारिख ने टेक्सास के दक्षिणी जिले के अमेरिकी जिला अदालत के न्यायाधीश डेविड हिट्टनर के समक्ष अपना दोष स्वीकार किया.

अमेरिकी न्याय विभाग ने कहा था कि नीलम ने भारत के तीन अन्य नागरिकों के साथ मिलकर इस धोखाधड़ी को अंजाम दिया. इस मामले में सजा 11 अगस्त को सुनाई जाएगी. न्याय विभाग के कहा कि याचिका में की गई स्वीकारोक्ति के मुताबिक पारिख और उसके साथी साजिशकर्ताओं ने एक योजना बनायई थी, जिसमें अहमदाबाद के कॉल सेंटरों से लोगों ने आईआरएस या यूएस सिटीजनशिप ऐंड इमीग्रेशन सर्विसेस के अधिकारी बनकर अमेरिका में कई लोगों को चूना लगाया.

डेटा ब्रोकरों और अन्य स्रोतों से जानकारी लेकर कॉल सेंटरों के ऑपरेटर पीड़ितों को निशाना बनाते और उन्हें धमकी देते कि अगर वे कथित सरकारी धन का भुगतान नहीं करते है तो उन्हें गिरफ्तारी, जुर्माना या निर्वासन का सामना करना पड़ेगा.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर