उत्तर कोरिया ने किया रॉकेट इंजन का सफल परीक्षण, मिसाइल में हो सकता है इस्तेमाल

भाषा
Updated: March 19, 2017, 8:41 PM IST
उत्तर कोरिया ने किया रॉकेट इंजन का सफल परीक्षण, मिसाइल में हो सकता है इस्तेमाल
File Photo: Kim Jong Un
भाषा
Updated: March 19, 2017, 8:41 PM IST
उत्तर कोरिया विश्व का ऐसा देश है, जो हमेशा सुर्खियों में रहता है. कभी परमाणु प्रक्षेपण के कारण तो कभी विवादित बयानों के कारण. इस बार भी मामला कुछ इसी तरह का है. आज उत्तर कोरिया ने उच्च क्षमता वाले एक नए रॉकेट इंजन का परीक्षण किया, जिसे उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन ने देश के अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिए एक क्रांतिकारी सफलता करार दिया है.

केसीएनए की खबर के अनुसार, परीक्षण का निरीक्षण करते हुए नेता किम जोंग-उन ने इस बात पर जोर दिया कि पूरी दुनिया जल्द ही देखेगी कि आज की महान विजय का क्या महत्व है? दरअसल, किम अपनी बात के जरिए यह संकेत दे रहे थे कि उत्तर कोरिया एक नया उपग्रह रॉकेट प्रक्षेपित करने की तैयारी कर रहा है.

बाहरी पर्यवेक्षकों का माना है कि परमाणु हथियारों से लैस प्योंगयांग का अंतरिक्ष कार्यक्रम हथियार परीक्षणों को छिपाने के लिए है. इस रॉकेट इंजन को आसानी से मिसाइलों में प्रयोग किया जा सकता है.

नए अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन अमेरिका के सहयोगी जापान और दक्षिण कोरिया की यात्रा करने के बाद कल बीजिंग पहुंचे. उन्होंने कहा कि अमेरिका प्योंगयांग के साथ धैर्यपूर्वक कूटनीति चलाने की ‘विफल’ तरकीब पर अब काम नहीं करेगा. टिलरसन ने यह चेतावनी दी कि उत्तर कोरिया के खिलाफ अमेरिकी सैन्य कार्रवाई का विकल्प मौजूद है.

केसीएनए की एक रिपोर्ट के अनुसार, ‘नए इंजन के विकास से बाह्य अंतरिक्ष विकास क्षेत्र में विश्वस्तरीय उपग्रह स्थापित करने की क्षमता के लिए जरूरी वैज्ञानिक एवं तकनीकी नींव रखने में मदद मिलेगी.’
First published: March 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर