5000 रुपये का नोट बंद करने की खबरों से पाक सरकार का इंकार

भाषा

Updated: December 27, 2016, 11:39 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने सोमवार को देश में 5000 रुपये के नोट बंद करने की खबरों का खंडन किया। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि सरकार ने इस तरह का कोई निर्णय नहीं लिया है और न ही 5000 रुपये के नोटबंद करने का कोई विचार है। बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान में बड़े मूल्य का यही एक मात्र नोट है और इसकी संख्या कुल मुद्रा का मात्र 17 प्रतिशत है।

बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान की सीनेट ने काले धन के प्रवाह को रोकने के लिए एक चरणबद्ध तरीके से 5,000 रुपये के नोट का चलन बंद करने की मांग करने वाले एक प्रस्ताव को पारित किया था। एक महीने पहले भारत में भी 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों का चलन बंद कर दिया गया था।

5000 रुपये का नोट बंद करने की खबरों से पाक सरकार का इंकार
वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि सरकार ने इस तरह का कोई निर्णय नहीं लिया है और न ही 5000 रुपये के नोटबंद करने का कोई विचार है।

सीनेट सदस्य पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता सैफुल्ला खान ने प्रस्ताव पेश किया था जिसे उपरी सदन में सांसदों ने बहुमत से पारित किया।

First published: December 27, 2016
facebook Twitter google skype whatsapp