पाकिस्तान ने फिर शुरू किए पीओके में बंद पड़े आतंकी ट्रेनिंग कैंप

News18India

Updated: February 13, 2017, 1:43 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

पाक अधिकृत कश्मीर में बंद पड़े आतंकी ट्रेनिंग कैंप को दोबारा खोल दिया गया है.

पीओके में कुछ महीने पहले भारत और अंतरराष्ट्रीय दबाब के चलते कई कैंपों को बंद कर दिया गया था और साथ ही कई कैंपों को नियंत्रण रेखा (एलओसी) से दूर शिफ्ट कर दिया गया था, लेकिन अब एक बार फिर यहां आतंकी कैंप सक्रिय हो गए हैं.

सुरक्षा एजेंसियों को सूचना मिली है कि पीओके के मुज्जफराबद का सबसे बड़ा आतंकी ट्रेनिंग कैंप रत्तु फिर शुरू हो गया है. इस कैंप में लगभग 30 कश्मीरी युवाओं को ट्रेनिंग दी जा रही है, जिनमें ज्यादातर पजांबी और पश्तो हैं.

सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) की मदद से पाकिस्तान सेना के कमांडो और आधिकारी इस कैंप में आतंकियों को नई टकनीक से ट्रेंड कर रहे हैं.

सूत्रों के अनुसार इस कैंप में इस समय 90 के करीब आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. कैंप में आतंकियों को फैंस को काटना, तैराकी, क्लाईबिंग(पहाड़ी चढ़ना) और अत्याधनुिक हथियारों को चलाना सिखाया जा रहा है.

रत्तु कैंप में लश्कर, हिजबुल और जैश के आतंकियों को सगंठित कर ट्रैनिंग दी जा रही है. पाक सेना के आधिकारी और कमांडो इनको रोज ट्रैनिंग के साथ-साथ अन्य जानकारियों के बारे में अवगत करवाते हैं.

गौरतलब है कि भारत ने जब सर्जिकल स्ट्राईक की थी तब ये कैंप खाली हो चुका था और बंद था, लेकिन अब इसे फिर से शुरू किया गया है. रत्तु कैंप के अलावा 5 और कैंप फिर से खोले गए है. हांलाकि, इन पांचों में अभी आतंकियों की संख्या का ब्यौरा नहीं है पर इन कैंपों में गाड़ियों की आवाजाही लगी रहती है.

First published: February 13, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp