अलेप्पो में मिला अमेरिकी हथियारों का जखीरा, विद्रोहियों ने छिपाकर रखा था!

News18India
Updated: January 3, 2017, 10:51 PM IST
अलेप्पो में मिला अमेरिकी हथियारों का जखीरा, विद्रोहियों ने छिपाकर रखा था!
रूसी दल को अलेप्पो में बहुत ही आधुनिक किस्म के रॉकेट मिले। बरामद हुए हथियारों के जखीरे में अमेरिका और जर्मनी में बने बम और रॉकेट बरामद हुए हैं।
News18India
Updated: January 3, 2017, 10:51 PM IST
नई दिल्ली। सीरिया के अलेप्पो को आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के कब्जे से छुड़ाने के बाद रूसी सैनिक हथियार विशेषज्ञों के साथ मिलकर इस सुरक्षित बनाने के यहां छुपे हुए हथियारों की तलाश कर रहे हैं। इसी तलाशी के दौरान उनके खोजी कुत्ते उन्हें एक इमारत तक ले गए। इसके तहखाने में घुसते ही रूसी दल के होश उड़ गए जब वहां बहुत ही आधुनिक किस्म के रॉकेट मिलने लगे। बरामद हुए हथियारों के जखीरे में अमेरिका और जर्मनी में बने बम और रॉकेट बरामद हुए हैं।

ये रॉकेट मजबूत डिब्बों में थे। जिन्हें आमतौर पर फौज इस्तेमाल करती हैं। हथियारों को बाहर लाकर उनकी गिनती की जाने लगी तो उनपर अमेरिका, जर्मनी और बुल्गारिया जैसे देशों की हथियार फैक्ट्री की ठप्पा लगा था।

बता दें, अलेप्पो से अबतक करीब 7 हजार से ज्यादा खतरनाक रॉकेट और बम बरामद हो चुके हैं। इससे रूस का ये आरोप पुख्ता हुआ है कि अलेप्पो के विद्रोहियों को अमेरिका और पश्चिमी देश हथियार दे रहे थे। अब इसकी तस्दीक सीरियाई सेना को मिले हथियार भी कर रहे हैं।

ज्ञात हो कि कुछ ही दिन पहले अलेप्पो में सीरियाई सेना ने भी हथियारों का बड़ा जखीरा बरामद किया था। इनमें हथगोले, आधुनिक रॉकेट, मोर्टार के गोले भी थे। हथियारों के कुछ डिब्बे में प्रोड्यूस्ड इन युगोस्लाविया और अमेरिका का ठप्पा लगा था। इन हथियारों में गाइडेड मिसाइल लांचर भी मिला है। इतना आधुनिक लांचर बिना दूसरे देशों के मदद के विद्रोहियों को मिलना मुश्किल था।
First published: January 3, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर