सूडान जा रहे शरणार्थियों पर हमला, 42 की मौत

News18India

Updated: March 18, 2017, 8:23 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

होदिदा. यमन के तट पर सोमालियाई शरणार्थियों से भरी एक बोट पर हुई गोलीबारी में 42 लोगों की मौत हो गई. यमन के शिया विद्रोहियों ने इस हमले का आरोप सऊदी नेतृत्व वाले गठबंधन पर लगाया है. शुक्रवार सुबह 3 बजे मिलिट्री के जंगी जहाज और हेलिकॉप्टर से यह हमला किया गया.

इस हमले में बचे यमन के एक तस्कर ने बताया कि नाव सोमालिया के शरणार्थियों से भरी हुई थी, जिसमें महिलाएं और बच्चे भी थे. शरणार्थी युद्धग्रस्त यमन के रस अर्रा से दक्षिणी तटीय शहर होदिदा होते हुए सूडान पहुंचने की कोशिश कर रहे थे. वहीं जंगी जहाज और हेलिकॉप्टर से उनपर खुलेआम फायरिंग शुरू कर दी गई.

सूडान जा रहे शरणार्थियों पर हमला, 42 की मौत
यमन के तट पर सोमालियाई शरणार्थियों से भरी एक बोट पर हुई गोलीबारी में 42 लोगों की मौत हो गई.

बचने के लिए शरणार्थियों ने फ्लैशलाइट से दिए सिग्नल

हमले में बचे तस्कर अल-हसन मोहम्मद ने बताया कि शरणार्थियों द्वारा बचने के लिए फ्लैशलाइट जलाकर सिग्नल दिए और तब जाकर फायरिंग बंद हुई, लेकिन तब तक दर्जनों लोग मारे जा चुके थे.

यूएन माइग्रेशन एजेंसी के सीनियर अफसर ने बताया कि 42 शव बरामद किए गए हैं.  हमले में बचे 75 पुरुषों और 15 महिलाओं को डिटेंशन सेंटर्स ले जाया गया है.

Yemen-1

हथियारों की तस्करी रोकने के लिए करता है गोलीबारी

बता दें कि सऊदी नेतृत्व वाली गठबंधन सेना यमन के होदिदा शहर के नजदीक तटीय इलाकों में भारी गोलीबारी करती रहती है. सेना का आरोप है कि हाउती विद्रोही इन इलाकों से छोटी नावों के जरिए हथियारों की तस्करी करता है.

Yemen-3

First published: March 18, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp