अब और आसान होगा मलेरिया का इलाज, वैज्ञानिकों ने की ये नई खोज

आईएएनएस

Updated: March 21, 2017, 10:30 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

अब मलेरिया का ट्रीटमेंट बेहद आसान होगा. ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने ऐसा पदार्थ खोज निकाला है, जो लीवर में इन्फे्क्शन करने वाले जम्स को खत्म कर सकता है. मेडिकल एक्सपर्ट का मानना है कि इस अहम खोज से मलेरिया का वैक्सिन तैयार करने में आसानी होेगी.

मलेरिया से बचाव में कारगर है कीटनाशक मच्छरदानी

अब और आसान होगा मलेरिया का इलाज, वैज्ञानिकों ने की ये नई खोज
अब मलेरिया का ट्रीटमेंट बेहद आसान होगा. ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों ने ऐसा पदार्थ खोज निकाला है, जो लीवर में इन्फे्क्शन करने वाले जम्स को खत्म कर सकता है.

ये खोज बचाएगी लीवर को इन्‍फेक्‍शन से

यह रिसर्च ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी के रिसर्चर ने की है. चीफ रिसर्चर चीफ रिसर्चर हैले मैकनामारा ने कहा, "हमें पता है कि टी सेल ज्यादातर इन्फेक्शन से हमें बचा सकते हैं, लेकिन अब तक हम यह अच्छी तरह नहीं समझ सके हैं कि ये टी सेल वायरस से इनफेक्टेड दुर्लभ कोशिकाओं या मलेरिया के रोगाणुओं को कैसे खोज निकालते हैं."

मैकनामारा कहते हैं "हमने पता लगाया है कि 'एल.एफ.ए-1' नाम के इस कंपाउंड की अब्सेंट में ये टी-कोशिकाएं काम नहीं करतीं. इस कंपाउंड के बिना टी-कोशिकाएं तेजी से एक जगह से दूसरी जगह नहीं जा पातीं और मलेरिया के रोगाणु को प्रभावी तरीके से खत्म नहीं कर पातीं."

झारखंड में मौत की बीमारी बन गया है मलेरिया

हर साल पांच लाख लोगों की मौत

मलेरिया से हर साल अफ्रीका और एशिया के देशों में करीब पांच लाख लोगों की मौत हो जाती है, मैकनामारा का कहना है कि इस खोज से शरीर में इन्फेक्शन से लड़ने वाली रोग-प्रतिरोधक कोशिकाओं 'टी-सेल्स' से जुड़े रहस्य को जानने में मदद मिलेगी.

First published: March 21, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp