ट्रंप बोले, आईएसआईएस के खात्मे के लिए हमें रोका गया पर अब छुटकारा पाना ही होगा

भाषा
Updated: January 22, 2017, 10:50 AM IST
ट्रंप बोले, आईएसआईएस के खात्मे के लिए हमें रोका गया पर अब छुटकारा पाना ही होगा
अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुफिया एजेंसी सीआईए के अधिकारियों से पहली मुलाकात में कहा, ‘हमें आईएसआईएस तथा कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद से छुटकारा पाना ही होगा. अब तक हमने पूरी क्षमता का इस्तेमाल नहीं किया क्योंकि हमें रोका गया.’
भाषा
Updated: January 22, 2017, 10:50 AM IST
अमेरिका के नए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुफिया एजेंसी सीआईए के अधिकारियों से पहली मुलाकात में कहा, ‘हमें आईएसआईएस तथा कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद से छुटकारा पाना ही होगा. अब तक हमने पूरी क्षमता का इस्तेमाल नहीं किया क्योंकि हमें रोका गया.’ कल ही उन्होंने राष्ट्रपति पद को संभालते ही अपनी पहली मीटिंग में ही नस्ली इस्लामिक आतंकवाद और आतंकी संगठनों पर निशाना साधा.

ट्रंप ने अपने शपथग्रहण की बात को दोहराते हुए कहा, ‘यह एक बुराई है, इसे मिटाया जाना ही होगा।’ सीआईए के अधिकारियों को अपने पहले संबोधन में उन्होंने कहा, ‘मैं दूसरे पहलू को समझ सकता हूं। हम सब इसके दूसरे पहलू को समझ सकते हैं, देशों के बीच युद्ध हो सकते हैं आप समझ सकते हैं कि क्या हुआ होगा लेकिन यह ऐसा है जिसे कोई समझ ही नहीं सकता। यह उस स्तर की बुराई है जिसे हमने देखा नहीं है, लेकिन हम इसे समाप्त करने जा रहे हैं। यही वक्त है और इसे समाप्त करने का यही सही वक्त है।’ सीनेट ने अभी सीआईए के निदेशक पद के लिए ट्रंप की ओर से नामित माइक पोंपिओ को हरी झंडी नहीं दी है।

राष्ट्रपति ने सीआईए के लिए कहा कि यह समूह देश को सुरक्षित करने के लिए, दोबारा इसे विजेता बनाने और सभी समस्याओं से निजात दिलाने की दिशा में सर्वाधिक महत्वपूर्ण समूह बनने जा रहा है।ट्रंप ने कहा, ‘हमारे सामने बहुत सारी समस्याएं हैं जो कि एक दूसरे से इस तरह से जुड़ी हुई हैं कि हम सोच भी नहीं सकते। मैं बस इतना कह सकता हूं कि मैं आपके साथ हूं।’
First published: January 22, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर