अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का आरोप, फाइल लीक करने में ओबामा का हाथ

आईएएनएस
Updated: February 28, 2017, 9:18 PM IST
अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का आरोप, फाइल लीक करने में ओबामा का हाथ
PTI Image
आईएएनएस
Updated: February 28, 2017, 9:18 PM IST

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव से पहले ई-मेल व दस्तावेजों की लीक मामले में तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा का हाथ बताया है. ट्रंप ने यह भी कहा है कि टाउन हॉल में रिपब्लिकंस को जो फजीहत झेलनी पड़ी है, उसके पीछे भी ओबामा ही थे.

फॉक्स न्यूज पर 'फॉक्स एंड फ्रेंड' नामक साक्षात्कार में ट्रंप से पूछा गया कि क्या वह मानते हैं कि इस महीने रिपब्लिकंस के खिलाफ देशभर में टाउन हॉल विरोध प्रदर्शन हुए, उसके लिए बराक ओबामा जिम्मेदार हैं.

ट्रंप से सवाल किया गया, 'पता चला है कि देश भर में आपके खिलाफ रिपब्लिकंस को जो विरोध झेलना पड़ रहा है, उसके पीछे उनके (ओबामा) संगठन का हाथ है. क्या आप मानते हैं कि इसके पीछे राष्ट्रपति ओबामा हैं और अगर सच में वह हैं, तो क्या यह तथाकथित अघोषित राष्ट्रपति संहिता का उल्लंघन है?'

ट्रंप ने साक्षात्कार में कहा कि नहीं, मुझे लगता है कि इसके पीछे वही हैं. मुझे यह भी लगता है कि यह राजनीति है, जिस तरह यह चल रही है. ट्रंप के साक्षात्कार के इस क्लिप को सोमवार रात जारी किया गया. इसके बाद ट्रंप ने लीक पर चर्चा की, जिसके कारण उनके प्रथम महीने का कामकाज बाधित हुआ.

ट्रंप ने साक्षात्कार के प्रीव्यू के एक अन्य क्लिप में कहा कि आपको कभी पता नहीं चल पाया कि इन सबके पीछे वास्तव में चल क्या रहा है. आपको पता है, या तो आप शायद सच हो सकते हैं या आपके सही होने की संभावना है, लेकिन आपको कभी पता नहीं चल पाया.

उन्होंने कहा कि नहीं, मुझे लगता है कि राष्ट्रपति ओबामा इन सबके पीछे हैं, क्योंकि उनके लोग निश्चित तौर पर इसमें शामिल हैं. और कुछ लीक उस समूह द्वारा किया गया, जो सचमुच में गंभीर है, क्योंकि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए वे बेहद खतरनाक हैं. लेकिन मैं यह भी समझता हूं कि यह राजनीति है और शायद यह जारी रहेगी. ट्रंप ने हालांकि अपने दावे के समर्थन में कोई सबूत नहीं दिया.

इस महीने की शुरुआत में ट्रंप ने फॉक्स न्यूज से कहा था कि मेक्सिको तथा ऑस्ट्रेलिया के नेताओं के साथ उनकी बातचीत की रपट ओबामा के लोगों के कारण लीक हुई. लीक कांड को लेकर ट्रंप की सरकार को काफी फजीहतें झेलनी पड़ी हैं और लीक करने वालों तथा मीडिया के खिलाफ वह लगातार हमले कर रहे हैं. उन्होंने कहा है कि लीक राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा साबित हो रहा है.

First published: February 28, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर