होम » फोटो » खेल
2/8
खेल Apr 30, 2016, 06:26 PM

बिना गेंद देखे ही ऊंचे-ऊंचे छक्के मारता है यह भारतीय क्रिकेटर, नाम से कांपते हैं पाकिस्तानी


जब तक न सफल हो, नींद-चैन को त्यागो तुम, संघर्ष का मैदान छोड़ मत भागो तुम, कुछ किए बिना ही जय-जयकार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती. ये कविता हरियाणा के एक चैंपियन पर पूरी तरह से सटीक बैठती है. क्रिकेट की एक अनोखी दुनिया के इस चैंपियन ने अपने जुनून और जज्बे के आगे अपनी कमियों को कभी आड़े नहीं आने दिया और अपने चैंपियन बनने के सपने को पूरा करके दिखाया. इस शख्स का बस एक ही सपना था चैंपियन बनने का और वह भी क्रिकेट की दुनिया का चैंपियन. अगली स्लाइड में जाने, कौन है ये शख्स और कैसे बना क्रिकेट की इस दुनिया का चैंपियन... ये भी पढ़ें-जिस क्लब के 'हेडमास्टर' हैं क्रिस गेल, रॉबिन उथप्पा को मिला एडमिशन