राज्य

केंद्रीय मंत्री कृष्णा राज ने अजमेर में महिला बाल विकास विभाग के भवन का लोकार्पण किया

ETV Rajasthan
Updated: June 20, 2017, 2:45 PM IST
केंद्रीय मंत्री कृष्णा राज ने अजमेर में महिला बाल विकास विभाग के भवन का लोकार्पण किया
केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कृष्णा राज.
ETV Rajasthan
Updated: June 20, 2017, 2:45 PM IST
अजमेर दौरे पर आईं केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कृष्णा राज ने आज जयपुर रोड स्थित महिला एवं बाल विकास विभाग के नवनिर्मित भवन का लोकार्पण किया. साथ ही बालिका कौशल शिविर के समापन मौके पर उन्होंने बालिकाओं को सम्मानित किया.

इस मौके पर उन्होंने कहा कि देश में आधी आबादी कही जाने वाली महिलाओं की स्थिति में बड़ा परिवर्तन आया है. मौजूदा समय में खेल, शिक्षा, विज्ञान और राजनीति सहित कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है, जहां बेटियों ने परचम नहीं फहराया हो. आज देश की बेटियां हर क्षेत्र में नई शक्ति बनकर उभरी हैं. उनकी यह रफ्तार अब रूकने वाली नहीं है.

कृष्णा राज ने आज अजमेर में जयपुर रोड पर दो करोड़ रुपये की लागत से बने देश के पहले महिला एवं बाल विकास संकुल का लोकार्पण और पण्डित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी बालिका कौशल विकास शिविर का समापन किया.

कार्यक्रम में मंत्री कृष्णा राज ने कहा कि प्रधानमंत्रा नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में देश और प्रदेश एक नई करवट ले रहा है. केन्द्र सरकार महिला, दलित, पिछड़े और वंचितों को आगे लाने के लिए शानदार काम कर रही है. देश की बेटियां अब घर की चार दीवारी से बाहर निकल कर हर क्षेत्र में अपना परचम लहरा रही हैं.

उन्होंने अजमेर में बेटियों को दिए गए कौशल विकास प्रशिक्षण शिविर को एक अनूठी पहल बताते हुए कहा कि इससे बालिकाओं में आत्मविश्वास जगेगा. बालिकाएं इस सीखे हुए हुनर को अपना भविष्य संवारने के लिए उपयोग करेंगी.

समारोह में महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री अनिता भदेल ने कहा कि यह अजमेर के लिए एक बड़ा अवसर है, जहां देश के पहले महिला एवं बाल विकास संकुल भवन का लोकार्पण हुआ है. इससे महिलाओं एवं बालकों से संबंधित कामकाज को और गति मिलेगी.

मंत्री भदेल ने कहा कि मुख्यमंत्रा वसुन्धरा राजे का प्रयास है कि हर हाथ को काम मिले, प्रदेश का युवा हुनरमंद हो. अब तक राजस्थान में 10 लाख युवाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया जा चुका है.
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर