राज्य

पाली की सफाई को पुख्ता करने के लिए बना सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट खुद बन रहा 'वेस्ट'

Shyam Choudhary | ETV Rajasthan
Updated: June 20, 2017, 11:37 AM IST
पाली की सफाई को पुख्ता करने के लिए बना सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट खुद बन रहा 'वेस्ट'
पाली का वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट.
Shyam Choudhary | ETV Rajasthan
Updated: June 20, 2017, 11:37 AM IST
राजस्थान के पाली शहर की सफाई को पुख्ता करने के लिए बनाया गया सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट खुद 'वेस्ट' बनता जा रहा है. आठ साल में इस प्लांट के उपकरण जंग खा गए हैं. साथ ही यह चोरों का पसंदीदा स्थान भी बन गया है. दो मोटरों सहित कई उपकरण भी चोर पार कर चुके हैं.

हालांकि प्लांट की सुरक्षा के लिए यहां एक चौकीदार रखा हुआ है लेकिन वह भी चोरों के आतंक से भयभीत है. शहर से करीब आठ किलोमीटर दूर खेतावास में सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट को बने हुए आठ साल हो गए.

प्लांट पर आवास विकास लिमिटेड (एवीएल) का अधिकार है. एवीएल ने प्लांट को चलाने के लिए एक निजी फर्म को ठेका दिया लेकिन मात्र एक बार डेमो होने के बाद से यह प्लांट बंद पड़ा है.

प्लांट में लगी मोटरें चोर पहले ही पार कर चुके हैं. साथ ही इलेक्ट्रॉनिक कांटे, जनरेटर और कई अन्य उपकरणों को भी चोरों ने निशाना बनाया. हालात यह है कि डेढ़ करोड़ से अधिक लागत में बना यह प्लांट अब जर्जर हो चूका है.

मशीनों में भी जंग लग चुकी है. प्लांट को चलाने के लिए रखा पावर जेरनेटर भी धूल फांक रहा है और बिना उपयोग के ही ख़राब हो गया. इलेक्ट्रॉनिक कांटा भी जंग के चलते अंतिम सांसे ले रहा है.

प्लांट को शहर में छोटे बड़े डंपिंग स्टेशन से सॉलिड वेस्ट एकत्रित कर रिसाइकिल योग्य कचरे को अलग करने के उद्देश्य से बनाया गया था.

साथ ही अन्य कचरे को डम्प करने की प्लानिंग थी. इसके लिए आधुनिक मशीनें भी लगाई गई थीं लेकिन ठेका फर्म प्लांट को शुरू किए बगैर काम को बीच में ही छोड़ कर चली गई.

 
First published: June 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर