...और इसलिए कचहरी में एक दरोगा ने फोड़ दिया सिपाही का सिर

Praveen Sharma | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 21, 2017, 11:19 PM IST
Praveen Sharma | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 21, 2017, 11:19 PM IST
उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बनने के बाद एक तरफ तो डीजीपी पुलिस कर्मियों को शालीनता ओर ईमानदारी का पाठ पढ़ा रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ मथुरा सदर बाजार थाना क्षेत्र के कचहरी परिसर के पास कथित रूप से हवालात में पैसे के लेन-देन को लेकर एक सिपाही और दरोगा आपस में ही भिड़ गए.

दोनों के बीच सरेआम जमकर हुई इस मारपीट में दरोगा ने सिपाही के सिर पर घंटी से वार कर उसका सिर ही फोड़ दिया. गंभीर रूप से घायल हालत में सिपाही को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घटना के संबंध में घायल सिपाही सुरेंद्र ने बताया कि उन्होंने एक कैदी को हवालात से बाहर रखने का विरोध किया था. इसी के चलते दरोगा नेपाल सिंह ने उनके साथ मारपीट की.

बताया जाता है कि यहां कैदियों से बाहर ले जाने के पैसे लिए जाते हैं. इसी बात को लेकर दोनों में कहासुनी हो गई थी, जो बाद में हिंसक मारपीट में बदल गई.

लहूलुहान सिपाही को देखकर साथी पुलिस वालों ने घटना के संबंध में आला अधिकारियों को तुरंत सूचित कर दिया. मामले की जानकारी मिलते ही एसपी सिटी अशोक कुमार सिंह सहित कई आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी लेने में जुट गए. हालांकि, पुलिस अभी पूरे मामले पर कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं है.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर