राज्य

लाल बत्ती न होने के साइड इफ़ेक्ट, नो पार्किंग जोन में खड़ी सीएम योगी के मंत्री की गाड़ी उठी!

आईएएनएस
Updated: April 21, 2017, 9:22 AM IST
लाल बत्ती न होने के साइड इफ़ेक्ट, नो पार्किंग जोन में खड़ी सीएम योगी के मंत्री की गाड़ी उठी!
photo: PTI File Photo
आईएएनएस
Updated: April 21, 2017, 9:22 AM IST
उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने फैसला लिया है कि शुक्रवार से सूबे में लाल बत्ती कल्चर ख़त्म होगा. लेकिन इस फैसले पर अमल करना उनके कुछ मंत्रियों ने गुरुवार से ही शुरू कर दिया है. लेकिन गाड़ी में लाल बत्ती न होने का क्या साइड इफ़ेक्ट होता है, यह उस समय देखने को मिला जब झांसी में सीएम योगी के दौरे के दौरान नो पार्किंग जोन में  खड़ी एक मंत्री की सरकारी गाड़ी को उठा लिया गया.

यह भी पढ़ें: 1 मई नहीं, योगी सरकार में आज से ही लाल बत्ती कल्चर खत्म

दरअसल उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को बुंदेलखंड क्षेत्र का दौरा किया. इस दौरान चित्रकूट और झांसी मंडल के अधिकारियों के संग विकास भवन में समीक्षा बैठक में शामिल होने आए एक मंत्री की गाड़ी गायब हो गई.

इस घटना से हड़कंप मच गया. हालांकि बाद में पता चला कि मंत्री की कार 'नो पार्किं ग जोन' में खड़ी थी, जिसे उठवाकर पार्किंग में खड़ी कर दी गई थी.

मुख्यमंत्री योगी जब विकास भवन में समीक्षा बैठक कर रहे थे, उसी दौरान प्रदेश सरकार के एक मंत्री यूपी 32 बीजी 6371 नंबर वाली कार से पहुंचे. पार्किंग की जगह देखे बगैर उन्होंने कार सर्किट हाउस परिसर में खड़ी कर दी. कुछ देर बाद वह कार गायब हो गई. मंत्री को जब पता चला तो उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी.

मंत्री की गाड़ी चोरी होने की खबर से पुलिस के हाथ-पैर फूल गए. आनन-फानन में इसकी सूचना वायरलेस पर जारी की गई. बाद में यातायात प्रभारी ने सूचना दी कि मंत्री की कार सर्किट हाउस के नजदीक नो पर्किंग जोन में खड़ी थी, जिसमें न चालक था और न ही कोई बत्ती लगी थी. उस कार को उठाकर पार्किंग में खड़ी कर दी गई.

इस घटना के बाद लोगों में लाल बत्ती कल्चर खत्म होने के साइड इफ़ेक्ट चर्चा का विषय बना हुआ है. दरअसल अगर गाड़ी में लाल बत्ती लगी होती तो किसी की हिम्मत नहीं थी कि कोई उसे छू पाता. फिलहाल यह देखना दिलचस्प होगा कि लाल बत्ती का हैंगओवर किस तरह से जाता है.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर