विधानसभा उपचुनाव लड़ेंगे योगी, मौर्य और शर्मा बनेंगे एमएलसी!

Ajayendra Rajan | News18Hindi

Updated: March 19, 2017, 10:49 AM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दो डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व दिनेश शर्मा की घोषणा के बाद अब तय हो गया है कि तीनों को ही उपचुनाव में शामिल होना पड़ेगा. दरअसल तीनों ही भाजपा गठबंधन के 325 विधायकों का नेतृत्व तो कर रहे हैं, लेकिन विधायक नहीं हैं.

आदित्यनाथ गोरखपुर से और केशव प्रसाद मौर्य फूलपुर से सांसद हैं. दिनेश शर्मा लखनऊ के मेयर हैं. जाहिर है पद पर बने रहने के लिए उन्हें छह महीने के अंदर विधानसभा या विधानपरिषद में से किसी एक सदन की सदस्यता हासिल करना होगा.

विधानसभा उपचुनाव लड़ेंगे योगी, मौर्य और शर्मा बनेंगे एमएलसी!
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ और दो डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व दिनेश शर्मा की घोषणा के बाद अब तय हो गया है कि तीनों को ही उपचुनाव में शामिल होना पड़ेगा.

पार्टी सूत्रों के अनुसार योगी और केशव मौर्य विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं. इसके लिए फॉर्मूला ये निकाला जा रहा है कि जिन दो विधानसभा सीटों पर ये चुनाव लड़ेंगे, वहां के भाजपा विधायकों को इन दोनों की संसदीय सीटों गोरखपुर और फूलपुर से संसदीय चुनाव लड़ने का आॅफर किया जा सकता है, या अगले एमएलसी बनाए जाने का आॅफर किया जा सकता है. उप-मुख्यमंत्री बनाए गए मेयर दिनेश का एमएलसी बनना लगभग तय माना जा रहा है.

दरअसल सदन में भाजपा के 312 और सहयोगी दलों के 13 विधायक हैं. इन विधायकों के बीच से भाजपा सीएम और डिप्टी सीएम का चुनाव नहीं कर सकी.

वर्तमान परिस्थितियों पर नजर डालें तो इस समय उत्तर प्रदेश विधान परिषद में एक सीट बनवारी सिंह यादव के निधन से रिक्त हुई है. बदायूं के बनवारी सिंह स्थानीय निकाय क्षेत्र से एमएलसी थे.

इसके अलावा अगले साल पांच मई को परिषद की 13 सीटें खाली हो रही है. वहीं सपा के एमएलसी अंबिका चौधरी चुनाव के दौरान बसपा में शामिल हो गए, इस लिहाज से उनकी सीट दलबदल के तहत रिक्त हो सकती है.

ऐसे में माना जा रहा है कि आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य विधायक का चुनाव लड़ेंगे. वहीं दिनेश शर्मा को एमएलसी बनाया जाएगा.

First published: March 19, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp