राज्य

सीएम योगी ने किए पांच निजी स्टाफ की तैनाती, जानिए कौन हैं ये लोग

News18Hindi
Updated: March 20, 2017, 12:54 PM IST
सीएम योगी ने किए पांच निजी स्टाफ की तैनाती, जानिए कौन हैं ये लोग
उत्तर प्रदेश का सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने अपने पांच निजी स्टाफ व एक अपर निजी सचिवों की अस्थाई तौर पर तैनाती कर दी है.
News18Hindi
Updated: March 20, 2017, 12:54 PM IST
उत्तर प्रदेश का सीएम बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने अपने पांच निजी स्टाफ व एक अपर निजी सचिवों की अस्थाई तौर पर तैनाती कर दी है. इसके तहत दीपक श्रीवास्तव, काशी नाथ, पवन कुमार वीर, अरविंद कुमार, सुरेश सिंह व राम सूरत सविता की तैनाती की गई है.

बता दें, कि योगी आदित्यनाथ के ये वो 6 लोग है जो हर वक्त सीएम हाउस से लेकर सचिवालय तक योगी के हर छोटे बड़े कामों में अहम भूमिका निभाएंगे. गोरखपुर में 24 घंटे योगी के लिए काम करने वाले ये छ: लोग अब लखनऊ की संभालेंगे कमान.

दीपक श्रीवास्तव

दीपक को तैनाती  निजी स्टाफ के तौर पर सीएम हाउस में की गयी है, जो योगी के निजी कार्यक्रम पर पैनी नजर रखेंगे.

काशी नाथ

महराजगंज के पनियरा इलाके के परतावल बजार के रहने वाले 40 साल के काशी नाथ हिंदू युवा वाहिनी से जुड़े हुए है. वो योगी के हर कार्यक्रम की रुप रेखा तैयार करते है.वहीं आदित्यनाथ के सीएम बनने के बाद काशी नाथ को निजी स्टाफ के तौर पर नियुक्त किया है.

सुरेश सिंह

सुरक्षा अधिकारी के तौर पर योगी आदित्यनाथ के साथ हर पल साये की तरह साथ रहने वाले गोरखपुर के रहने वाले सुरेश सिंह को योगी आदित्यनाथ ने अपने निजी स्टाफ के तौर पर शामिल किया है.

पवन कुमार वीर

पवन कुमार वीर भी योगी के साथ कई सालों से काम करने का अनुभव है. यहि वजह है कि योगी ने इन्हें निजी स्टाफ के तौर पर नियुक्त किया है.

अरविंद कुमार

बीजेपी से पांच बार के सांसद योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने के बाद अरविंद अब लखनऊ में योगी का काम संभालेंगे.

गौरतलब है कि रविवार को योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के 21वें मुख्यमंत्री के रूप में लखनऊ के कांशीराम स्मारक स्थल पर राज्यपाल राम नाइक ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई.

योगी के साथ ही राज्यपाल ने दो डिप्टी सीएम (केशव प्रसाद मौर्या और दिनेश शर्मा) सहित कुल 48 मंत्रियों को भी पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई. इनमें 24 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार और 13 राज्यमंत्री शामिल हैं.

 

 
First published: March 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर