राज्य

एंटी रोमियो स्क्वाड : सीएम योगी बोले, अब तक 1061 के खिलाफ कार्रवाई

News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 8:35 AM IST
एंटी रोमियो स्क्वाड : सीएम योगी बोले, अब तक 1061 के खिलाफ कार्रवाई
सीएम योगी की फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: May 20, 2017, 8:35 AM IST
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में सदन की कार्यवाही के दौरान सीटी बजाने और राज्यपाल पर कागज के गोले फेंकने की निंदा की. उन्होंने सीटी बजाने की घटना पर बोलते हुए कहा कि सीटी दो ही लोग बजाते हैं. एक तो ट्रैफिक पुलिस और दूसरा जिसके लिए एंटी रोमियो स्क्वाड बनाया है. अब तक 1061 के खिलाफ एंटी रोमियो स्क्वाड ने कार्रवाई की है.

योगी ने कहा कि ये सरकार बीजेपी और सहयोगी दलों की है. किसी मजहब या जाति विशेष की नहीं है. जिन लोगों ने 5 साल और 10 साल तक यूपी में शासन किया, वह हमसे दो महीने में 100 साल का हिसाब मांग रहे हैं. हम तय कर चुके हैं कि प्रदेश में न अपराध की जगह होगी, न ही अपराधियों के संरक्षण की. अगर किसी ने गरीब, व्यापारी या किसी का भी उत्पीड़न क‍िया तो उसे अपने भविष्य के बारे में सोचना होगा.

सीएम योगी ने कहा कि हमारे प्रदेश से कई नदियां बहती हैं. फिर भी हमारा किसान आत्महत्या करता है, इसलिए बीजेपी सरकार ने किसानों के लिए फसली ऋण माफ करने का फैसला लिया. हम इसे टैक्स से नहीं वसूलेंगे. अपने खर्चों को सीमित कर पूरा करेंगे. हम किसानों से फसलों का क्रय खुद करेंगे. अब तक 3 हजार करोड़ का भुगतान कर चुके हैं.

चीनी मिलें औने-पौने दामों में बेच दी गईं. गन्ना किसानों का अब तक 21 लाख 570 करोड़ का भुगतान करवा चुके हैं, जो पिछले साल की तुलना में दाेगुना है. ये 15 जून तक चलेगा. पहली बार आलू किसानों के लिए योजना लाए हैं. सरकार ने तय किया कि अगर आलू का दाम उसे नहीं मिल पाया तो हम खरीदेंगे. 1 लाख मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य रखा है.

प्रदेश में वीआईपी कल्चर था, ज‍िसे खत्म क‍िया है. हर ज‍िले को ब‍िजली म‍िलेगी. हम सबको साथ लेकर चलेंगे. योगी ने सपा नेता प्रत‍िपक्ष रामगोविंद चौधरी से कहा कि आप लखनऊ में रहते हैं, लेकिन अब आप जिलों में जाएंगे तो 24 घंटे बिजली मिलेगी.

हमने एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन किया. 1 लाख 74 हजार 434 मामले पकड़े. इन्हें जेल भेजने की जगह इनके पेरेंट्स को सौंपा गया. हमने 6 लाख 48 हजार 990 जगह पर चेकिंग की. 1 हजार 61 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की.

गरीब के बच्चों को होमगार्ड की यूनिफॉर्म पहना दी गई. दया आती है. हमने कॉन्वेंट स्कूल की तर्ज पर ड्रेस तय किया है. जूता भी देंगे, बैग भी देंगे और आने वाले समय में बदले कोर्स के साथ बच्चा पढ़ेगा.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर