इस वजह से सीएम योगी के मंत्रिमंडल में मिली पांच महिलाओं को जगह

News18Hindi

Updated: March 19, 2017, 8:54 PM IST
facebook Twitter google skype whatsapp

यूपी में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिलने के बाद लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में रविवार को यूपी के 21 वें सीएम के तौर पर महंत योगी आदित्यनाथ ने 48 मंत्रियों के साथ शपथ ली. इनमें 5 महिलाओं को भी जगह मिली है.

इनमें रीता बहुगुणा जोशी, स्वाति सिंह, अनुपमा जायसवाल, गुलाब देवी और अर्चना पांडेय शामिल हैं. जानते हैं कि योगी के पहले मंत्रिमंडल में आखिर इन महिला नेताओं को क्यों मिली जगह?

इस वजह से सीएम योगी के मंत्रिमंडल में मिली पांच महिलाओं को जगह
योगी के पहले मंत्रिमंडल में शामिल हुईं ये पांच महिलाएं

रीता बहुगुणा जोशी

कांग्रेस का दामन छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में आईं रीता बहुगुणा जोशी ने मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव को राजधानी की लखनऊ कैंट सीट से हराया. यही वजह है कि रीता बहुगुणा जोशी को योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री के तौर पर जगह मिली है.

स्वाति सिंह

बीजेपी नेता और स्वाति सिंह के पति दयाशंकर सिंह के मायावती पर विवादित टिप्पणी के बाद पहली बार वो मीडिया के सामने आने वाली स्वाति ने बीएसपी सुप्रीमो मायावती सहित बसपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं के बयानों का जवाब दिया, उससे वो रातोंरात सुर्ख़ियों में आ गईं. बीजेपी ने उन्हें लखनऊ के सरोजनी नगर विधानसभा सीट से मैदान में उतारा था. यहां स्वाति सिंह ने मुलायम सिंह के भतीजे अनुराग यादव को हराया.

अनुपमा जायसवाल

बहराइच सदर सीट से बीजेपी नेता अनुपमा जायसवाल ने जीत दर्ज की. बता दें कि बीते 25 साल से यह सीट पर सपा का कब्ज़ा था. लेकिन अनुपमा की अगुवाई में यहां भगवा का झंडा फहर गया. जो इलाका मुस्लिम बहुल इलाकों में गिना जाता है. इस सीट पर पूर्व मंत्री डॉ. वकार अहमद शाह की पत्नी रुबाब सईदा को हराकर अनुपमा जायसवाल ने जीत दर्ज की.

गुलाब देवी

संभल की चंदौसी सीट से गुलाब देवी को मैदान में उतारा था. वो पार्टी के दलित चेहरे के रूप में भी जानी जाती हैं. इस बार चुनाव में गुलाब देवी ने सपा-कांग्रेस गठबंधन की प्रत्याशी विमलेश कुमारी को हराया. गुलाब की यह जीत संभल की सबसे बड़ी जीत थी.

अर्चना पांडे

अर्चना पांडे पूर्व मंत्री रामप्रकाश त्रिपाठी की बेटी हैं. अर्चना छिबरामऊ से पहली बार विधायक बनी हैं. ब्राह्मण चेहरा होने की वजह से उन्हें योगी सरकार में राज्यमंत्री बनाया गया है.

First published: March 19, 2017
facebook Twitter google skype whatsapp