यूपी: यहां घरों के बाहर लगे 'मकान बिकाऊ है' के बोर्ड, नहीं मिल रहे खरीदार

Bhuwan Chandra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 19, 2017, 4:59 PM IST
यूपी: यहां घरों के बाहर लगे 'मकान बिकाऊ है' के बोर्ड, नहीं मिल रहे खरीदार
मकान बिकाऊ का लगा बोर्ड
Bhuwan Chandra | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 19, 2017, 4:59 PM IST
मुरादाबाद जिले में शराब की दुकान हटाने की मांग को लेकर लोगों का गुस्सा शांत होने का नाम नहीं ले रहा. यहां के नाराज 50 से ज्यादा परिवारों ने अपने मकान को बेचने का फैसला किया है. स्थानीय लोगों का आरोप है कि मोहल्ले में शराब की दो दुकाने खुलने से दिन-भर शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है.

वहीं, मोहल्ले में महिलाओं और बच्चियों को घर से निकलना मुश्किल हो गया है. शराबियों के दिन-भर उत्पात मचाने से मोहल्ले में हर दिन झगड़ा होना आम बात हो गयी है. यहां के लोगों द्वारा कई बार पुलिस और प्रशासन से शराब की दुकान हटाने को लेकर ज्ञापन भी दिया गया. इसके बावजूद प्रशासन ने शराब की दुकान नहीं हटवाई.

लगातार विरोध कर रहे लोगों ने अब अपने घर बेचकर मोहल्ला छोड़ने और पलायन करने का दावा किया है. मोहल्ले के पचास से ज्यादा घरों के बाहर लोगों ने 'यह मकान बिकाऊ है' के बोर्ड लगाकर सस्ते दामों में मकान बेचने का निर्णय लिया है.

दस सराय मोहल्लें में लोगों के घरों के आगे दिन-भर शराबियों द्वारा गन्दगी करना और गाली गलौच करने के चलते मोहल्ले में लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, दिन-भर शराबियों के उत्पात से परेशान मोहल्लेवासी अपने मकानों को निर्धारित कीमतों से भी कम कीमत में बेच रहे हैं. हैरानी की बात यह है कि मकान बेचने को तैयार लोगों को शराबियों के चलते कोई खरीदार नहीं मिल रहा है.

प्रशासन के मुताबिक शराब की दुकान को हटाने को लेकर कोई शासनादेश जारी नहीं है, लिहाजा शराब की दुकान हटाना सम्भव नहीं है. कैमरे पर कुछ भी कहने से इंकार कर रहे अधिकारी इसे लोगों का विरोध प्रदर्शन का तरीका बता रहे हैं.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर