बिना लाइसेंस बेच रहे थे एसिड, छापेमारी के बाद सील हुई दर्जनों दुकानें

Bhupendra Gupta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 21, 2017, 11:31 AM IST
बिना लाइसेंस बेच रहे थे एसिड, छापेमारी के बाद सील हुई दर्जनों दुकानें
फोटो-ईटीवी
Bhupendra Gupta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 21, 2017, 11:31 AM IST
नैनीताल के डीएम दीपक रावत ने गुरुवार को हल्द्वानी और काठगोदाम में बिना लाइसेंस लिए एसिड की बिक्री कर रहे दुकानदारों के ठिकानों पर छापेमारी की. 

छापेमारी के बाद लगभग एक दर्जन से अधिक दुकानों में हुई छापेमारी के दौरान कोई भी दुकानदार मौके पर एसिड दुकान का लाइसेंस नहीं दिखा पाया. इस वजह से डीएम ने एक गोदाम सहित आधा दर्जन केमिकल की दुकानें सील कर दी हैं.

उन्होंने दुकानदारों पर पचास हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया.  लगभग चार घंटे तक चली इस छापेमारी में जिलाधिकारी ने लगभग सभी दुकानों और उनके गोदामों का मुआयना किया. उन्होंने खुद सभी दुकानदारों से लाइसेंस की मांग की.

एसिड बेचने के लिए लेना होता है लाइसेंस

कार्रवाई के बाद डीएम रावत ने मीडिया से बातचीत में जनता से भी अपील की कि वे अपने- अपने क्षेत्रों में एसिड बेचने वाले दुकानदारों की जानकारी प्रशासन को दें. एसिड बेचने के लिए जिलाधिकारी से लाइसेंस लेना होता है.

उल्लेखनीय है कि पहले एसिड बेचने के लिए किसी लाइसेस की जरूरत नहीं होती थी. देश भर में एसिड हमले की बढ़ती घटनाओं के बाद संसद से कानून पारित हुआ जिसके बाद एसिड बेचने के लिए डीएम से लाइसेंस लेना जरूरी है.
First published: April 21, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर