राज्य

ऋषिकेश की संकरी सड़कों पर मिनटों का सफर घंटों में

ETV UP/Uttarakhand
Updated: June 18, 2017, 7:04 PM IST
ऋषिकेश की संकरी सड़कों पर मिनटों का सफर घंटों में
जाम का नजारा फोटो- ईटीवी
ETV UP/Uttarakhand
Updated: June 18, 2017, 7:04 PM IST
दिल्ली से हरिद्वार-ऋषिकेश का हाईवे देश से सबसे व्यस्त हाईवे में से एक है. हाईवे का यही ट्रैफिक जब ऋषिकेश की संकरी पहाड़ी सड़कों पर पहुंचता है तो जाम का मुख्य कारण बनता है. ऐसे में संकरी सड़कों में जाम से निपटने के सभी ट्रैफिक प्लाल घरे के घरे के रह जाते हैं.

तीर्थनगरी ऋषिकेश का विस्तार प्रदेश के तीन जिलों तक है देहरादून जिले में मुख्य बाजार ऋषिकेश, टिहरी जिले में मुनिकिरेती और पौड़ी जिले में लक्ष्मणझूला क्षेत्र. कुल 6 से 7 किमी के क्षेत्र में जहां 10 मिनट का रास्ता पड़ता है वहीं जाम के कारण इन सड़कों पर घंटों बर्बाद हो जाते हैं.

शनिवार और रविवार को तो स्थिति और विकट हो जाती हैं, दिल्ली और हरियाणा से भारी हजारों की संख्या में पर्यटक ऋषिकेश आते हैं तो सड़कों पर कई- कई किमी का जाम लग जाता है.

ऋषिकेश में सड़कों पर जाम लगने के कई कारण हैं. एक ओर जहां सड़कों पर अतिक्रमण के कारण सड़कें दिन- प्रतिदिन संकरी होती जा रही हैं,

वहीं नगरपालिका क्षेत्र ऋषिकेश में शहर के विस्तारीकरण के बाद भी पार्किंग की व्यवस्था नहीं है. ऐसे में वाहन सड़कों पर ही खड़े रहते हैं, ट्रैफिक नियमों की भी पुलिस सख्ती से पालन नहीं कराती.

वहीं तीन जिलों में पड़ने वाले ऋषिकेश में पुलिस के बीच समन्वय बैठाने में होने वाली कठिनाई के कारण भी लोगों को जाम से वर्षों से निजात नहीं मिल पाई है.

तीर्थनगरी ऋषिकेश की टिहरी जिले में पड़ने वाली नगरपालिका क्षेत्र मुनिकिरेती की बात करें यहां प्रतिदिन हजारों की संख्या में पर्यटक और तीर्थयात्री आते हैं.

 

 
First published: June 18, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर