'तीन तलाक' पीड़‍ि‍ता ने कहा- न्‍याय नहीं मिला तो कर लूंगी खुदकुशी

Pooran Rawat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 20, 2017, 9:20 AM IST
'तीन तलाक' पीड़‍ि‍ता ने कहा- न्‍याय नहीं मिला तो कर लूंगी खुदकुशी
मीडिया के सामने अपनी पीड़ा बयां करती शमीमजहां. फोटो : न्‍यूज18/ईटीवी
Pooran Rawat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: May 20, 2017, 9:20 AM IST
उत्‍तराखंड में  'तीन तलाक' से पीड़ित एक महिला ने चेतावनी दी है कि उसे जल्‍द ही न्‍याय नहीं मिला तो वह खुदकुशी कर लेगी.

यह महिला है ऊधमसिंह नगर जिले के गदरपुर थाना क्षेत्र में आने वाले ग्राम डोंगपुरी की शमीमजहां. वह इन दिनों न्याय के लिए पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों के चक्कर काट रही है, पर उसकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है.

शमीमजहां को वर्ष 2009 में उसके पति आसिफ ने दहेज की मांग पूरी न करने पर तलाक दे दिया था. अपने पति के भाई के साथ हलाला की प्रक्रिया के बाद इस महिला का इसके पति के साथ दोबारा निकाह हो गया था. इसके बावजूद उसका पति उसे बात-बात में तीन बार तलाक कहता रहा. जब उसने इसे नहीं माना तो उसके पति ने रिवॉल्‍वर की नोक पर उससे सादे कागज पर साइन करा लिए और फिर तलाक दे दिया.

शमीमजहां का कहना है कि सास उसे बदसूरत और ससुर उसे पागल करार देकर घर से निकल जाने को कहते हैं. देवर-जेठ और पति के बहनोई ने मिलकर उसे प्रताड़ि‍त किया. उससे कभी दो लाख रुपए तो कभी गाड़ी की मांग की जाती.

शमीमजहां के कुल तीन बच्चों में से दो बच्चे उसके पति के पास ही हैं. एक बच्‍ची उसके पास है. पति अब दूसरी शादी करने की तैयारी भी कर रहा है. शमीमजहां का कहना है कि उसकी मर्जी के खिलाफ उसे तलाक दिया गया है, जिसे वह नहीं मानती. उसने थाना गदरपुर लिखित शिकायत दी है. उसकी मांग है कि उसके पति की दूसरी शादी रुकवाई जाए और उसे उसका हक दिलवाया जाए.

'तीन तलाक' से पीड़ित इस महिला ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही उसे इस पूरे मामले में न्याय नहीं मिला तो वह ससुराल वालों को जिम्‍मेदार ठहराते हुए खुदकुशी कर लेगी.
First published: May 20, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर