होम » वीडियो

VIDEO: हिमाचल के नाहन में ‘शांत पर्व’ की धूम

नाहन10:36 AM IST Jun 27, 2017

हिमाचल प्रदेश के नाहन में शांत पर्व का आयोजन किया गया. इस पर्व का नाम भले ही ‘शांत पर्व’ हो, लेकिन इस आयोजन में हिमाचल की संस्कृति और परंपरागत गीत संगीत छाया रहा. दरअसल, ये एक सदियों पुरानी परंपरा है कि जब भी किसी नए मंदिर का निर्माण होता है तो उसके बाद शांत पर्व का आयोजन किया जाता है. नए मंदिर की छत पर एक भारी भरकम लकड़ी स्थापित की जाती है, जिसे स्थानीय भाषा में ‘खनेउड’ कहा जाता है. खास बात यह है कि यह ‘खनेउड़’ एक ही पेड़ की लकड़ी का बना होता है और इसे एक बार उठाने के बाद सीधा मंदिर की छत पर स्थापित किया जाता है. ढोल-नगाड़ों की धुनों पर देवी-देवताओं के जयकारों के साथ ही इसे उठाया व मंदिर पर चढ़ाया जाता है. इस लकड़ी छूना शुभ माना जाता है. यही वजह है कि हर कोई इसे उठाने के लिये आतुर रहता है.

satish sharma

हिमाचल प्रदेश के नाहन में शांत पर्व का आयोजन किया गया. इस पर्व का नाम भले ही ‘शांत पर्व’ हो, लेकिन इस आयोजन में हिमाचल की संस्कृति और परंपरागत गीत संगीत छाया रहा. दरअसल, ये एक सदियों पुरानी परंपरा है कि जब भी किसी नए मंदिर का निर्माण होता है तो उसके बाद शांत पर्व का आयोजन किया जाता है. नए मंदिर की छत पर एक भारी भरकम लकड़ी स्थापित की जाती है, जिसे स्थानीय भाषा में ‘खनेउड’ कहा जाता है. खास बात यह है कि यह ‘खनेउड़’ एक ही पेड़ की लकड़ी का बना होता है और इसे एक बार उठाने के बाद सीधा मंदिर की छत पर स्थापित किया जाता है. ढोल-नगाड़ों की धुनों पर देवी-देवताओं के जयकारों के साथ ही इसे उठाया व मंदिर पर चढ़ाया जाता है. इस लकड़ी छूना शुभ माना जाता है. यही वजह है कि हर कोई इसे उठाने के लिये आतुर रहता है.

Latest Live TV