OMG! ये तो पटरी पर दौड़ता महल है

OMG09:43 AM IST Jul 08, 2017

रेलवे ने साल 2010 में दुनिया के नक्शे पर भारतीय पर्यटन को उभारने के लिए पटरी पर उतारा अपने सबसे लग्जरियस ट्रेन को और नाम दिया महाराजा एक्सप्रेस. इस ट्रेन को चलता फिरता महल कहते हैं. हर तरह की सुख-सुविधा से लैस महाराजा एक्सप्रेस विलासिता का अनुपम उदाहरण है. भारत दर्शन के लिए रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली यह विशेष ट्रेन पूरी दुनिया में मशहूर है अपनी सेवा-सुविधा और मेहमाननवाजी के लिए. चूंकि इसका नाम महाराजा एक्सप्रेस है, इसलिए इसका किराया भी राजसी है. इसमें सफर का लुत्फ लेने के लिए यात्रियों को लगभग 2 लाख 50 हजार रुपये से लेकर 15 लाख रुपये तक चुकाने पड़ते हैं. वैसे इस ट्रेन के किराया समय-समय पर बदलता भी रहता है. महाराजा एक्सप्रेस में कुल 23 डिब्बे होते हैं और इस ट्रेन की कुल यात्री क्षमता है 82. इस ट्रेन में 14 केबिन हैं, जिसमें 5 डीलक्स केबिन 6 जूनियर सूएट, 2 सूएट और एक मैजेस्टिक प्रेजीडेंसिएल सूएट भी हैं. रेलवे ने महाराजा एक्सप्रेस के चार यात्रा कार्यक्रम तय किये हैं. इनमें से ज्यादातर सफर की शुरूआत दिल्ली से होती है और यह आगरा तक जाती है. सफर के दौरान यह ट्रेन भारत के अन्य हिस्सों से भी गुजरती है. यात्रा के दौरान पर्यटकों को प्राचीन स्मारकों और दर्शनीय जगहों का भ्रमण भी कराया जाता है.

news18 hindi

रेलवे ने साल 2010 में दुनिया के नक्शे पर भारतीय पर्यटन को उभारने के लिए पटरी पर उतारा अपने सबसे लग्जरियस ट्रेन को और नाम दिया महाराजा एक्सप्रेस. इस ट्रेन को चलता फिरता महल कहते हैं. हर तरह की सुख-सुविधा से लैस महाराजा एक्सप्रेस विलासिता का अनुपम उदाहरण है. भारत दर्शन के लिए रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली यह विशेष ट्रेन पूरी दुनिया में मशहूर है अपनी सेवा-सुविधा और मेहमाननवाजी के लिए. चूंकि इसका नाम महाराजा एक्सप्रेस है, इसलिए इसका किराया भी राजसी है. इसमें सफर का लुत्फ लेने के लिए यात्रियों को लगभग 2 लाख 50 हजार रुपये से लेकर 15 लाख रुपये तक चुकाने पड़ते हैं. वैसे इस ट्रेन के किराया समय-समय पर बदलता भी रहता है. महाराजा एक्सप्रेस में कुल 23 डिब्बे होते हैं और इस ट्रेन की कुल यात्री क्षमता है 82. इस ट्रेन में 14 केबिन हैं, जिसमें 5 डीलक्स केबिन 6 जूनियर सूएट, 2 सूएट और एक मैजेस्टिक प्रेजीडेंसिएल सूएट भी हैं. रेलवे ने महाराजा एक्सप्रेस के चार यात्रा कार्यक्रम तय किये हैं. इनमें से ज्यादातर सफर की शुरूआत दिल्ली से होती है और यह आगरा तक जाती है. सफर के दौरान यह ट्रेन भारत के अन्य हिस्सों से भी गुजरती है. यात्रा के दौरान पर्यटकों को प्राचीन स्मारकों और दर्शनीय जगहों का भ्रमण भी कराया जाता है.

Latest Live TV