होम » वीडियो

उसे कत्ल करने में आता था मजा, खून बहते देखना था सबसे बड़ा शौक

Crime11:47 PM IST Mar 11, 2017

पश्चिम बंगाल के बांकुरा की श्वेता उर्फ आकांक्षा (28) की उदयन दास से फेसबुक के जरिए दोस्ती हुई थी. उसके बाद दोनों जून 2016 से भोपाल के साकेत नगर में लिव-इन-रिलेशन में रहने लगे. दिसंबर माह में दोनों के बीच विवाद हुआ तो उदयन ने श्वेता की गलाघोंट कर हत्या कर दी और शव को घर में दफनाकर चबूतरा बना दिया था. वह इसी चबूतरे पर सोया करता था. उदयन की हरकत का राज तब खुला जब श्वेता के परिजनों ने बांकुरा पुलिस में श्वेता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. बांकुरा पुलिस ने भोपाल पुलिस की मदद से साकेत नगर स्थित मकान से आकांक्षा का शव चबूतरा तोड़कर बरामद किया, वहीं आरोपी ने मां-बाप की वर्ष 2010 में हत्या कर उनके शवों को रायपुर के मकान के बगीचे में दफनाने की बात स्वीकारी. पुलिस ने वहां खुदाई करके रविवार को दोनों के शवों के अवशेष बरामद कर लिए.

ETV MP/Chhattisgarh

पश्चिम बंगाल के बांकुरा की श्वेता उर्फ आकांक्षा (28) की उदयन दास से फेसबुक के जरिए दोस्ती हुई थी. उसके बाद दोनों जून 2016 से भोपाल के साकेत नगर में लिव-इन-रिलेशन में रहने लगे. दिसंबर माह में दोनों के बीच विवाद हुआ तो उदयन ने श्वेता की गलाघोंट कर हत्या कर दी और शव को घर में दफनाकर चबूतरा बना दिया था. वह इसी चबूतरे पर सोया करता था. उदयन की हरकत का राज तब खुला जब श्वेता के परिजनों ने बांकुरा पुलिस में श्वेता की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. बांकुरा पुलिस ने भोपाल पुलिस की मदद से साकेत नगर स्थित मकान से आकांक्षा का शव चबूतरा तोड़कर बरामद किया, वहीं आरोपी ने मां-बाप की वर्ष 2010 में हत्या कर उनके शवों को रायपुर के मकान के बगीचे में दफनाने की बात स्वीकारी. पुलिस ने वहां खुदाई करके रविवार को दोनों के शवों के अवशेष बरामद कर लिए.

Latest Live TV