लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / बिहार /

नेता और दल का झंडा लेकर घूमने से नहीं बदलेगा बिहार, प्रशांत किशोर ने बताया बदलाव का यह प्लान

नेता और दल का झंडा लेकर घूमने से नहीं बदलेगा बिहार, प्रशांत किशोर ने बताया बदलाव का यह प्लान

Bihar News: जन सुराज यात्रा के 66वे दिन प्रशांत किशोर पूर्वी चंपारण जिले के चिरैया प्रखंड के गांवों में पहुंचे प्रशांत किशोर ने बिहार की स्थिति बदलने का आह्वान किया. उन्होंने यह भी कहा कि नेताओं के पीछे चलने और दलों के झंडे लेकर घूमने से बिहार की स्थिति ना बदली है ना बदलेगी. पीके ने बिहार के लोगों को वह रास्ता भी बताया जिसपर चलकर वे बिहार बदलना चाहते हैं.

जन सुराज यात्रा के क्रम में पूर्वी चंपारण जिले के चरैया में प्रशांत किशोर .

जन सुराज यात्रा के क्रम में पूर्वी चंपारण जिले के चरैया में प्रशांत किशोर .

हाइलाइट्स

जन सुराज यात्रा के क्रम में पूर्वी चंपारण के चरैया में प्रशांत किशोर.
पीके बोले-दलों व नेताओं का झंडा लेकर घूमने से नहीं बदलेगा बिहार.
'मिलकर बनाओ और मिलकर चलाओ; वाली सरकार बनाना लक्ष्य.

मोतिहारी. जन सुराज यात्रा के 66वें दिन आज राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर उर्फ पीके पूर्वी चंपारण के चिरैया प्रखंड के गांवों में रहे. यहां उन्होंने नेताओं पर तंज कसते हुए कहा कि बिहार उतना बुरा नहीं है जितना सिस्टम में बैठे नेताओं ने बना रखा है. नेता ऐसा माहौल अपने निजी हित के लिए बनाए हुए हैं, ताकि उनको बंदूक वाले सरकारी गनमैन मिल सके.

पीके ने कहा, मैं पिछले 65 दिनों से बिहार के हर गली-मुहल्ले घूम रहा हूं और मुझे किसी ने परेशान नहीं किया. सवाल है फिर जनता दूसरे नेताओं पर हमला क्यों कर रहे हैं? ऐसा, इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने आम जनता से जो बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य पर जो वादा किया था उसे अब तक पूरा नहीं किया गया. उन्होंने आम जनता से वोट तो लिया पर उनका भला ना करके, अपने और अपने परिवारवालों का भला किया है, इससे ज्यादा कुछ नहीं.

प्रशांत किशोर ने कहा कि 60 प्रतिशत लोगों के पास अपनी खुद की जमीन नहीं है. उनकी किस्मत में मजदूरी करना ही लिखा है और मजदूरी कर रहे हैं. बिहार में जो खेती कर रहे हैं उनको सरकार की तरफ से यूरिया, पोटाश, बीज समय पर नहीं मिल रहा है. अगर किसी गांव में किसान अनाज उपजा भी रहे हैं तो उसकी कीमत बाजार में नहीं मिल रही है. जिन युवाओं को दुकान खोलना है उनके पास जमीन नहीं होने की वजह से लोन नहीं मिल पा रहा है. इसी कारण से बिहार के लोग दूसरे राज्यों में जाने के लिए मजबूर हैं.

आपके शहर से (पूर्वी चंपारण)

Munger News: पेड़ काटना और नदियों को प्रदूषित करना हो सकता है विनाशकारी, जानें क्या कहते हैं विशेषज्ञ

Samstipur News : एक्सप्रेस ट्रेन में यात्री को मिला गंदा कंबल और चादर, शिकायत के बाद भी नहीं मिली मदद, जानिए पूरा मामला 

Bhagalpur News : अमृत भारत स्टेशन योजना से जुड़ा भागलपुर, हाईटेक होगी सुविधाएं, जानिए क्या है मास्टरप्लान 

Buxer news : समाजसेवियों की मदद से अस्पताल से घर लौटा बक्सर का लाल, इस लाइलाज बीमारी से था पीड़ित

Women's IPL: पहले आक्शन में दुनिया की 350 महिला क्रिकेटर, बिहार की यशिता को भी मिली जगह

Nalanda News : स्ट्रॉबेरी की खेती से नालंदा को दिलाई नई पहचान, जानिए किसान ने कहां से ली ट्रेनिंग

BPSC 68th PT Exam : बिहार के 38 जिलों में 4.34 लाख कैंडिडेट देंगे परीक्षा, इस बार पैटर्न में हुए हैं ये बदलाव

Bhagalpur News : अखिल भारतीय संतमत सत्संग का 111वां महाधिवेशन भागलपुर में, 10 लाख से ज्यादा भक्त

यात्रीगण, कृपया ध्यान दें! 1 अप्रैल तक चलेगी पाटलिपुत्र-अयोध्या स्पेशल ट्रेन, लोकमान्य तिलक-पटना का अब नेपानगर में भी ठहराव

Nalanda News : मैं युवा लेखक हूं, बिहार शरीफ वालों सपोर्ट चाहिए, मिलिए बिहार के इस युवा लेखक से 

Siwan News : सीवान में इस तारीख को राष्ट्रीय लोक अदालत, अपने विवाद सुलझाने के लिए पहुंचें यहां


पीके ने कहा कि अब तक कोई भी पार्टियां गांव में किसी एक भी व्यक्ति से यह पूछने नहीं आये कि विधायक कौन होगा? क्योंकि अन्य पार्टियों ने आपके पास कोई विकल्प ही नहीं छोड़ा है. इसलिए मैं यहां जन सुराज के माध्यम से आप सबको समझाने आया हूं कि साथ दीजिए ताकि “मिलकर बनाओ और मिलकर चलाओ” वाली सरकार बने. वरना इतिहास रहा है कि नेता और दल का झंडा लेकर घूमने से बिहार की स्थिति ना बदली है ना बदलेगी.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Bihar politics, East champaran, Motihari news, Prashant Kishor

FIRST PUBLISHED : December 07, 2022, 10:52 IST
अधिक पढ़ें