Home / News / bihar /

snake bites 9 year old boy parents grandfather take help of oculist and perform exorcism 2 hour know what happen next nodmk3

दादा के साथ खेत गए पोते को सांप ने डसा तो 2 घंटे तक झाड़-फूंक कराते रहे परिजन, जानें फिर आगे क्‍या हुआ?

दादा के साथ खेत घूमने गए पोते को जहरीले सांप ने काट लिया. इलाज के लिए बच्‍चे को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

दादा के साथ खेत घूमने गए पोते को जहरीले सांप ने काट लिया. इलाज के लिए बच्‍चे को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Snake Bite: दादा के साथ खेत घूमने गए पोते को जहरीले सांप ने काट लिया. इसके बाद परिजन 9 साल के बच्‍चे की तांत्रिक से झाड़-फूंक कराने लगे. समय पर इलाज न मिलने से बच्‍चे की तबीयत बिगड़ने लगी. बाद में पुलिस को इसकी सूचना मिली तो पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे.

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज जिले से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. यहां दादा के साथ खेत घूमने गए पोते को जहरीले सांप ने डस लिया. इसकी सूचना मिलते ही परिजनों ने तांत्रिक को बुलाया और बच्‍चे की झाड़-फूंक कराने लगे. अंधविश्‍वास का यह सिलसिला काफी देर तक चलता रहा. उधर, समय पर इलाज न मिलने की वजह से बच्‍चे की तबीयत लगातार बिगड़ती जा रही थी. किसी ने इसकी सूचना स्‍थानीय पुलिस को दे दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्‍चे को अस्‍पताल में भर्ती कराया. इलाज मिलने के बाद बच्‍चे की जान बचाई जा सकी. वहीं, पुलिस को देखकर तांत्रिक मौके से फरार हो गया.

जानकारी के अनुसार, बच्‍चे को सांप काटने की यह घटना गोपालगंज के उचकागांव थाना क्षेत्र के बरारी जगदीश गांव की है. दादा के साथ खेत गए किशोर को जहरीले सांप ने डस लिया. सांप के डसने के बाद परिजन इलाज कराने के बजाय तांत्रिक के पास झाड़-फूंक कराने चले गए. तांत्रिक ने करीब 2 घंटे तक झाड़-फूंक किया, जिसके बाद किशोर की हालत लगातार बिगड़ने लगी. बाद में इसकी भनक पुलिस को लगी. पुलिसकर्मी जब मौके पर पहुंचे तो तांत्रिक फरार हो गया. आनन-फानन में किशोर को इलाज के लिए सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया. डॉक्टरों के मुताबिक समय पर इलाज न मिलने से बच्‍चे की हालत नाजुक हो गई.


दादा-पोते को सांप ने काटा, उसके बाद हुआ कुछ ऐसा कि अस्‍पताल से भागने लगे मरीज और तीमारदार 

आपके शहर से (पटना)

सत्ता परिवर्तन के कयासों के बीच बिहार में आज बैठकों का दौर, नीतीश कुमार ले सकते हैं बड़ा फैसला

1 अणे मार्ग और राजभवन की बढ़ायी गयी सुरक्षा, नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिलने का मांगा समय

PHOTO: DSP बनकर गांव पहुंची दलित की बेटी तो बजे ढोल-नगाड़े, हुआ सेलिब्रिटी जैसा स्वागत

बिहार में महागठबंधन की सरकार तय, नीतीश कुमार CM, तेजस्वी होंगे डिप्टी सीएम

बिहार में 'महागठबंधन का साथ' नीतीश कुमार के लिए क्यों है फायदे का सौदा? जान लें समीकरण

6 क्लास के बच्चे से लेडी टीचर ने कराई 300 बार उठक-बैठक, बेहोश होकर पहुंचा अस्पताल

बिहार में नई सरकार का फॉर्मूला आया सामने, 8-10 माह CM रहेंगे नीतीश; फिर तेजस्वी को मिलेगी कमान

Bihar Political Crisis Live Updates: राज्‍यपाल से मिलेंगे सीएम नीतीश कुमार, राजभवन के पास बढ़ी हलचल

JDU विधायक बोले- भाजपा ने नीतीश कुमार को काफी परेशान किया, हमें RJD से बैर नहीं

Viral News: सरकारी स्‍कूलों में तिरंगा की जगह फहराया गया SDPI का झंडा, बच्‍चों ने दी सलामी

Bihar Politics: बिहार में बीजेपी-जेडीयू के संबंधों को लेकर क्यों उठ रहे सवाल?


खेत में साफ-सफाई दौरान सांप ने डसा
बताया जाता है कि उचकागांव थाना क्षेत्र के बरारी जगदीश गांव निवासी आशीष कुमार यादव के पुत्र कर्ण कुमार (9 साल) अपने दादा शिवपूजन यादव के साथ खेत में साफ-सफाई करने गया था. वहां उसे जहरीले सांप ने डस लिया. किशोर के दादा ने बताया कि हमलोग झाड़-फूंक कराने ले गए, लेकिन उसके बाद बच्चे की तबीयत बिगड़ने लगी. इसके बाद पुलिस और ग्रामीण ने सदर अस्पताल ले जाने की सलाह दी.

पूरे शरीर में फैल चुका था जहर
सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ. शशि रंजन प्रसाद ने बताया कि झाड़-फूंक के चक्कर में बच्चे की तबीयत काफी बिगड़ चुकी थी. उसके मुंह से झाग आ रहा था और जहर पूरे शरीर में फैल चुका था. काफी मुश्किल से उसे होश में लाया गया. फिलहाल बच्‍चे को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है. अभी वह खतरे से बाहर है. उन्होंने लोगों से अपील की कि ऐसी परिस्थिति में जल्द से जल्द अस्पताल आएं. झाड़-फूंक के चक्‍कर में न पड़ें.

जा चुकी है 7 लोगों की जान
अंधविश्वास की वजह से सांप डसने के बाद लोग झाड़-फूंक कराने के चक्कर में फंस जाते हैं और इलाज के अभाव में मरीज की जान चली जाती है. पिछले 6 माह के आंकड़ों पर गौर करें तो 7 लोगों की मौत सांप डसने के बाद हो चुकी है. ऐसा झाड़-फूंक कराने के चक्कर में हुई है. समय रहते इलाज न कराने कारण इन लोगों की मौतें हुईं. सिविल सर्जन डॉ. वीरेंद्र प्रसाद का कहना है कि सभी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में एंटी स्नेक वेनम मौजूद है, इसलिए सांप काटे तो इलाज कराएं. झाड़-फूंक के चक्कर में न फंसें.

Tags:Bihar News, Gopalganj news