Home / News / bihar /

agriculture minister sudhakar singh promise bihar declared drought hit farmers get relief at every level nodaa

कृषि मंत्री सुधाकर सिंह का वादा- सूखाग्रस्त घोषित होगा बिहार, किसानों को हर स्तर पर दी जाएगी राहत

बिहार में महागठबंथन की सरकार बनने के बाद कृषि मंत्री सुधाकर सिंह पहली बार कैमूर पहुंचे.

बिहार में महागठबंथन की सरकार बनने के बाद कृषि मंत्री सुधाकर सिंह पहली बार कैमूर पहुंचे.

Relief Scheme: बिहार सरकार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने कहा कि बिहार के किसानों ने खेती में जो पूंजी लगाई है वह कैसे वापस आ जाए, हम उस चुनौती को स्वीकार करते हैं. जहां परती खेत है, पानी के अभाव में खेती नहीं हुई है, वहां आपदा के जरिए किसानों तक राहत का काम करेंगे.

हाइलाइट्स

कृषि मंत्री ने कहा कि जिनकी फसलें पानी के अभाव में फसलें मर रही हैं, उन्हें क्षतिपूर्ति मुआवजा मिलेगा.
उन्होंने कहा कि जो किसान सूखे की वजह से खेती नहीं कर सके, उन्हें एक मुश्त मुआवजा दिया जाएगा.
सुधाकर सिंह ने कहा कि किसानों को अगली फसल के लिए बीज से लेकर खाद तक हम मुहैया कराएंगे.

कैमूर. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद पहली बार कैमूर पहुंचे बिहार सरकार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने किसानों के लिए बहुत बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि बिहार को सूखाग्रस्त घोषित किया जाएगा. जो किसान सूखे की वजह से खेती नहीं कर सके, उन्हें एक मुश्त मुआवजा दिया जाएगा और जिन्होंने खेती की लेकिन पानी के अभाव में फसलें मर रही हैं, उन्हें क्षतिपूर्ति मुआवजा मिलेगा.

सुधाकर सिंह ने कहा कि मैंने इतिहास के उस दौर में मंत्री पद की शपथ ली है, जब सैकड़ों साल में एक बार अकाल आता है. उस भयानक अकाल के बीच दौर में हमने कार्यभार संभाला है. बिहार के किसानों ने खेती में जो पूंजी लगाई है वह कैसे वापस आ जाए, हम उस चुनौती को स्वीकार करते हैं. जहां परती खेत है, पानी के अभाव में खेती नहीं हुई है, वहां आपदा के जरिए किसानों तक राहत का काम करेंगे. यह संपूर्ण मानवता के लिए संकट है. इनसानों के साथ जीव-जंतु सबके लिए संकट की स्थिति है. पीने के लिए पानी, पशुओं के लिए चारा का घोर अभाव होने जा रहा है. हमें खेती को भी बचाना है. इन सारी स्थिति को फॉलो करते हुए हमें आगे बढ़ना है.


उन्होंने कहा कि यह राज्य सूखाग्रस्त घोषित होगा और हम किसानों को दो स्तरों पर राहत देने जा रहे हैं. जिनकी खेती नहीं हुई है, उनको एक मुश्त हम पैसा देने जा रहे हैं और जो खेती कर लिए हैं और उनका जो नुकसान हुआ है उसकी हम भरपाई करेंगे. दोनों स्तर पर हम काम करेंगे और तीसरा काम होगा कि अगली फसल के लिए बीज से लेकर खाद तक अलग से मुहैया कराएंगे.

आपके शहर से (कैमूर)

सोनिया गांधी से लालू प्रसाद और नीतीश कुमार ने की मुलाकात, कहा- BJP के खिलाफ कांग्रेस करे विपक्ष को एकजुट

OMG! बासमती चावल की ट्रक से निकलने लगी विदेशी शराब की बोतलें, जानिए क्या है पूरा मामला

बिहार: कृषि मंत्री सुधाकर सिंह के बयान से RJD- JDU असहज, दी कड़ी नसीहत, बीजेपी ने ली चुटकी

लग्जरी कार से दिल्ली से बिहार आ रही शराब की खेप जब्त, दो तस्कर गिरफ्तार

हिंदुओं-मुसलमानों के बीच कोई लड़ाई नहीं, अशांति पैदा करना चाहती है बीजेपी: नीतीश कुमार

INDL की रैली में तेजस्वी यादव ने बताई JDU, अकाली और शिवसेना के एनडीए से नाता तोड़ने की वजह

Bihar: भागलपुर के इस अस्पताल में धूल फांक रही अल्ट्रासाउंड मशीन, सबसे ज्यादा गर्भवती महिलाएं परेशान!

2024 चुनाव की गोलबंदीः INLD की रैली में बोले नीतीश कुमार- सभी विपक्षी दल साथ आएंगे तभी बुरी तरह हारेगी बीजेपी

बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह बोले- मेरे विभाग के अधिकारी भ्रष्ठ, 25 से 50 हजार की करते हैं वसूली

गया के इस पहाड़ पर पितरों को पिंडदान करने से मिलती है मुक्ति! पढ़ें- इस रहस्य से जुड़ी कहानी

कमिश्नर की फर्जी व्हाट्सऐप आईडी बनाकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी से 1 लाख की ठगी


अकाल की स्थिति को देखते हुए देश और राज्यस्तर पर हम वैज्ञानिकों को बुलाएंगे कि हमलोगों को सही सलाह दें कि आगे क्या करना चाहिए. सभी वैज्ञानिकों को इसी सप्ताह बुलाया जाएगा. मैं किसान हूं, किसान का बेटा हूं जो इस कुर्सी तक पहुंचा है. स्वभाविक है कि किसानों के पक्ष में फैसला लेंगे. जिस दिन लगेगा कि मैं किसानों के हक में फैसला लेने में असमर्थ हूं उस दिन इस कुर्सी पर नहीं रहूंगा.

Tags:Bihar News, Drought, Farmers

अधिक पढ़ें