Home / News / bihar /

cm nitish kumar reached kakolat falls instructed to start development work halted during corona period nodaa

ककोलत जलप्रपात पहुंचे सीएम, कोरोना काल में रुके विकास कार्य शुरू करने का दिया निर्देश

ककोलत जलप्रपात के सौंदर्यीकरण का काम कितनी सीढ़ियां चढ़ा- जांचने के बाद लौटते सीएम नीतीश कुमार.

ककोलत जलप्रपात के सौंदर्यीकरण का काम कितनी सीढ़ियां चढ़ा- जांचने के बाद लौटते सीएम नीतीश कुमार.

Corona Period: सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि 2018 में भी वे ककोलत जलप्रपात आए थे. उस वक्त की गई घोषणाओं के कार्य का जायजा लेने के लिए वे ककोलत जलप्रपात पहुंचे हैं. सीएम ने कहा कि ककोलत में चल रहा विकास कार्य 2 साल तक कोरोना के कारण पूरी तरह रुक गया था. लेकिन अब यहां पर फिर से काम शुरू किया जाएगा और जल्द से जल्द सैलानियों को सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

नवादा. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को अचानक सड़क मार्ग से बिहार का कश्मीर कहे जाने वाले नवादा स्थित ककोलत जलप्रपात पहुंचे. एकतारा स्थित ककोलत जलप्रपात में मुख्यमंत्री के साथ वरीय अधिकारी भी मौजूद थे. ककोलत की सीढ़ियों से वे मुख्य झरने तक पहुंचे. थोड़ी देर झरने के पास वक्त बिताने के बाद उन्होंने अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश दिए.

इस पूरे प्रकरण के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने कहा कि 2018 में भी वे ककोलत जलप्रपात आए थे. उस वक्त की गई घोषणाओं के कार्य का जायजा लेने के लिए वे ककोलत जलप्रपात पहुंचे हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि ककोलत में आने वाले सैलानियों को सभी सुविधाएं दी जाएंगी. हर चीज की जगह निर्धारित होगी. खाना खाने के लिए जगह, ठहरना, चेंजिंग रूम और साफ जल संग्रह करने के लिए भी इंतजाम किए जाएंगे. नीचे ऐसी व्यवस्था की जाएगी कि लोगों को किसी तरह की असुविधा न हो. रोपवे से लेकर सीढ़ी तक का काम किया जाएगा.

सीएम ने कहा कि ककोलत में चल रहा विकास कार्य 2 साल तक कोरोना के कारण पूरी तरह रुक गया था. लेकिन अब यहां पर फिर से काम शुरू किया जाएगा और जल्द से जल्द सैलानियों को सुविधा मुहैया कराई जाएगी. चार साल पहले दिए गए आदेश के तहत सीढ़ी और रेलिंग का कार्य अच्छे तरह से किया गया है. ककोलत एक पवित्र जगह है. लोग दूर-दूर से यहां आते हैं. इसलिए लोगों को यहां जल्द से जल्द सुविधा दी जाएंगी. वहीं आरसीपी के भविष्य पर पूछे गए सवाल पर नीतीश कुमार ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी. आरसीपी सिंह को राज्यसभा भेजा जाएगा या नहीं – इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोई भी प्रतिक्रिया नहीं दी. ककोलत का भ्रमण कर वे हवाई मार्ग से पटना के लिए रवाना हो गए.


आपके शहर से (नवादा)

पटना-गया-डोभी फोरलेन से जोड़े जा रहे 9 बाइपास, पटना हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग में हो रहा काम

क्या महज 5 लाख दहेज के लिए मार दी गई काजल? बेगूसराय में पंखे से लटका मिला शव

32 की उम्र में 12 शादियां, हर बीवी से खुद को बताता था कुंवारा फिर करवाता था धंधा

सीवान में ठेकेदार की गोली मारकर हत्या, हाल में ही लड़ा था मुखिया का चुनाव

'जीवन की सांझ' की दर्दनाक कहानी, बेटे-बहू ने मां-बांप को घर से निकाला, वीडियो वायरल

गया में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, एके-56, AK-47 जैसे हथियार के साथ नक्सली गिरफ्तार

नौकरी लगते ही प्रेमिका से शादी करने से मुकरा कांस्टेबल, SP ने हड़काया तो लिये सात फेरे

OMG! 12 घंटे तक नदी की तेज धार में बहता रहा किसान, 23 किलोमीटर दूर जाकर बची जान

बचपन का प्यार के लिए इंजीनियर शौहर का कत्ल, बीवी ने आशिक को घर बुलाकर करवाया खून

काली कमाई का 'कुबेर' निकला ड्रग इंस्पेक्टर, घर से 4 करोड़ कैश, 38 लाख के गहने बरामद

7 जुलाई के बाद क्या RCP सिंह बचा सकेंगे कुर्सी या JDU कोटे से किसी और को मिलेगा मौका ?


Tags:CM Nitish Kumar, Hindi news, Nawada news