लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / बिहार /

शराब का धंधा छोड़ नीरा का काम करने वालों को बिहार सरकार देगी 1 लाख रुपये, पढ़ें सीएम नीतीश ने क्या कहा

शराब का धंधा छोड़ नीरा का काम करने वालों को बिहार सरकार देगी 1 लाख रुपये, पढ़ें सीएम नीतीश ने क्या कहा

Bihar News: मुख्यमंत्री ने मीडिया और सभागार में लोगों से मुखातिब होते हुए कहा कि शराबबंदी से जुड़ी मेरी बात मान लीजिए. मै खुद आकर आपका चरण स्पर्श कर लूंगा. नीतीश कुमार ने कहा कि शराब के धंधे में लगे असली व्‍यक्ति को पहचानिए. यह देखिए कि कौन कर रहा है इधर-उधर.

नशा मुक्ति दिवस पर पटना के ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी से जुड़ी मेरी बात मान लीजिए. मै खुद आकर आपका चरण स्पर्श कर लूंगा.

नशा मुक्ति दिवस पर पटना के ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी से जुड़ी मेरी बात मान लीजिए. मै खुद आकर आपका चरण स्पर्श कर लूंगा.

पटना. मद्य निषेध दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को शराबबंदी कानून को सख्ती से लागू करने के लिए  पुलिस, मद्य निषेध विभाग की टीम के साथ ही प्रशासन के अधिकारियों को कहा कि भीतर रहकर शराब का धंधा कर रहे असली धंधेबाज को पकड़कर जेल में भेजिए. वही लोग गरीबों को इस काम में लगा रहे हैं. ऐसे गरीब लोगों की सतत जीविकोपार्जन योजना के तहत मदद कीजिए. नशा मुक्ति दिवस पर पटना के ज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री लोगों को संबोधित कर रहे थे. अपने संबोधन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से कहा कि ताड़ी के धंधे में लिप्त लोग यह काम छोड़कर नीरा निर्माण में अभी से ही लग जाए तो सरकार उन्हें एक लाख रुपए की सहायता देगी.

मुख्यमंत्री ने मीडिया और सभागार में लोगों से मुखातिब होते हुए कहा कि शराबबंदी से जुड़ी मेरी बात मान लीजिए. मै खुद आकर आपका चरण स्पर्श कर लूंगा. नीतीश कुमार ने कहा कि शराब के धंधे में लगे असली व्‍यक्ति को पहचानिए. यह देखिए कि कौन कर रहा है इधर-उधर. कार्यक्रम में मौजूद मुख्य सचिव आमिर सुबहानी को मुख्यमंत्री ने मंच से ही यह निर्देश दिया कि हर विभाग से शराबबंदी को लेकर यह प्रचार-प्रसार कराएं कि शराब कितनी बुरी चीज है. बहुत लोग शराब छोड़ चुके हैं और अब  कुछ ही लोग बचे हैं.

सीएम नीतीश ने की बापू की भी चर्चा 

आपके शहर से (पटना)

भरी मीटिंग में बिहारवासियों को कहे अपशब्द, अब 'गालीबाज अफसर' पर होगी FIR, सचिवालय थाना में BASA का आवेदन

बिहार में कुशवाहा वोटरों को लुभाने के लिए 3 नेताओं के बीच चल रही दिलचस्प राजनीतिक लड़ाई! पढ़ें इनसाइड स्टोरी

दीवानगी की हद, पहली अग्‍न‍ि परीक्षा में कश्‍मीर की मुस्‍ल‍िम युवती बनी ह‍िन्‍दू और फ‍िर खाना पड़ा जहर, क्‍योंक‍ि...

खुशखबरी: पश्चिम चंपारण में जल्द बनेगा 480 बेड का एकलव्य मॉडल आवासीय स्कूल, SC-ST वर्ग को होगा फायदा

पत्नी की हत्या को दिया आत्महत्या का रूप, हाथ-पैर बांध नदी में छिपाया शव, एक गलती ने पहुंचाया जेल

अंकित मर्डर केस: दिव्यांगों, महिलाओं व बुजुर्गों पर पुलिस एक्शन से उठे सवाल, बसडीला बाजार बंद

सुनीता कैसे ज‍िंदा है, जिसकी दोनों क‍िडनी चोरी हो गईं? क्‍या पत‍ि ने भी छोड़ द‍िया? यहां जानें पूरी सच्‍चाई

अनियंत्रित ट्रक ने ऑटो-ई रिक्शा को रौंदा, शादी से लौट रहे परिवार की दो बच्चियों समेत तीन की दर्दनाक मौत

Viral Video: 'कोई एक आदमी आकर पूछिए...', BDO की बात सुन भड़के दबंग, करने लगे हाथापाई

Nalanda News: रोजगार मेले में 446 लोगों को मिली नौकरी, जानें किस-किस कंपनी में हुआ चयन

Buxar News: गांव के लोगों ने पेश की मानवता की मिसाल, युवक के इलाज के लिए हप्ते भर में जमा किए 2 लाख रुपये


मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी को लेकर कुछ बड़े लोग मेरे द्वारा जितने काम किए गए हैं, उसकी चर्चा नहीं करते. मुझे इसकी परवाह नहीं है. उन्होंने पुलिस व प्रशासन से जुड़े लोगों को कहा कि समाज सुधार के अभियान को निरंतर जारी रखिए. इस बारे में जुड़ी पुस्तिका एक-एक घर में पहुंची है. पूरे तौर पर इस काम में लगेंगे तो राज्य आगे बढ़ेगा. मुख्यमंत्री ने बापू की चर्चा करते हुए कहा कि बापू ने कहा था कि शराब बुरी चीज है. जिस व्यक्ति ने देश को आजादी दिलायी क्या उनकी बात नहीं मानेंगे.

‘एक लाख की मदद का ऑफर दीजिये’

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में ताड़ी की खास तौर पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बे वजह ताड़ी से जुड़े लोगों को मत पकड़िए. यूं ही हम किसी को पकड़ने के लिए नहीं कह रहे हैं. इस धंधे में लगे लोगों को सतत जीविकोपार्जन योजना के तहत एक लाख रुपए की मदद का ऑफर दीजिए. सरकार की इस योजना के तहत 40,893 परिवार ने लाभ लेकर गोपालन, बकरीपालन, मुर्गीपालन व शहद का काम किया.

सीएम ने शराब के दुष्प्रभाव पर पर की चर्चा 

नशा मुक्ति दिवस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने शराब के दुष्प्रभाव पर विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट पर खास तौर पर चर्चा की. रिपोर्ट का हवाला देते हुए सीएम ने खासतौर पर कहा कि बीमारियों से अधिक मौत शराब पीने से होती है. यह दो हजार तरह की बीमारियों को बढ़ाता है. आत्महत्या के कुल मामले में 18 प्रतिशत इस तरह के लोगों से जुड़े हैं जो शराब पीते हैं. वहीं 27 प्रतिशत सड़क दुर्घटनाएं शराब पीने वालों की वजह से हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Bihar News, PATNA NEWS

FIRST PUBLISHED : November 27, 2022, 00:01 IST
अधिक पढ़ें