Home / News / bihar /

बिहार: तेजस्‍वी कर रहे थे संविधान बचाने की लड़ाई लड़ने का दावा, खुद नहीं डाला वोट

बिहार: तेजस्‍वी कर रहे थे संविधान बचाने की लड़ाई लड़ने का दावा, खुद नहीं डाला वोट

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को पटना के वेटनरी कॉलेज मतदान केंद्र पर वोट करना था, लेकिन वह नहीं आए.

बिहार में लोकसभा चुनाव 2019 के सातों चरणों के दौरान लालू यादव के छोटे बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आरजेडी के समर्थकों से ज्यादा से ज्यादा तादाद में मतदान करने का आह्वान करते रहे. उन्होंने यह आह्वान भी किया था कि लालू यादव को जेल से अगर बाहर निकालना है तो अधिक से अधिक संख्‍या में मतदान करें. लेकिन, हैरानी की बात यह रही कि लोगों से वोट डालने की अपील करने वाले तेजस्वी यादव ने ही लोकतंत्र के महापर्व में हिस्‍सा नहीं लिया. उन्‍होंने वोट नहीं डाला. बता दें बिहार में इस बार बीजेपी और जेडीयू ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा है.

तेजस्वी यादव को पटना के वेटनरी कॉलेज मतदान केंद्र पर वोट डालना था. मीडियाकर्मी उनका इंतजार करते रहे, लेकिन वह नहीं आए. वजह क्या रही इसकी जानकारी सामने नहीं आई है. तेजस्वी को लेकर दिनभर यही कयास लगते रहे कि वह वोट डालने जरूर आएंगे, लेकिन वह शाम छह बजे तक नहीं पहुंचे.

आपके शहर से (पटना)

16 अगस्त को होगा महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार! मंत्रियों के नाम कल होंगे फाइनल

स्वतंत्रता दिवस पर स्कूल की छत की रेलिंग गिरी, हादसे में 17 बच्चे घायल, 4 की हालत गंभीर

फोन कर क्रेडिट कार्ड से ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 2 साइबर अपराधी गिरफ्तार

BTSC ANM Recruitment 2022: बिहार में 10,000 से अधिक पदों पर सरकारी नौकरी का मौका, बस होनी चाहिए ये डिग्री

नीतीश कुमार के खिलाफ गिरिराज सिंह ने खोला मोर्चा, कहा- अंतिम बार बने हैं मुख्यमंत्री

महागठबंधन सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार का फॉर्मूला तय, आज 31 लोग लेंगे मंत्री पद की शपथ

पटना में स्कूल से झंडोत्तोलन कर लौट रहे दो शिक्षकों की ट्रेन से कटकर मौत

महागठबंधन सरकार का आज मंत्रिमंडल विस्तार, 31 संभावित मंत्रियों को राजभवन से आए फोन

बिहार BJP कोर कमेटी की मंगलवार को दिल्ली में बैठक, दोनों सदनों में नेता चुनने पर होगा मंथन

बालू कारोबारी की दिनदहाड़े हत्या, थाना से कुछ दूर पर ही शूटर्स ने मारी गोलियां

महागठबंधन सरकार के कैबिनेट विस्तार में कांग्रेस के बनेंगे 2 मंत्री, आज होगी नामों की घोषणा

ये भी पढ़ें- 2014 के Exit Polls में बिहार के वोटरों को पहचानने में 'गच्चा' खा गई थीं सर्वे एजेंसियां

हालांकि, इसी बीच ये कयास भी लगाए जाते रहे कि तेजस्वी यादव पटना से बाहर हैं. कभी उनके दिल्ली में होने की खबरें सामने आईं तो कभी उनके कोलकाता में होने की खबरें उड़ीं. लेकिन, मतदान खत्म होने तक इसका पता नहीं लग सका कि बिहार में नेता प्रतिपक्ष कहां हैं.

बिहार में महागठबंधन का नेतृत्व संभाल रहे तेजस्वी यादव ने अपना वोट क्यों नहीं डाला इसको लेकर कई सवाल खड़े होने लगे हैं. बता दें कि नेता प्रतिपक्ष ने बिहार में सवा दो सौ से अधिक चुनावी सभाएं कीं और हर सभा में केंद्र सरकार की लगातार मुखालफत करते रहे. संविधान बचाने की बात करते रहे, लेकिन जब मौका आया तो संविधान बचाने की लड़ाई लड़ने का दावा करने वाले तेजस्वी ने खुद संवैधानिक अधिकार के इस्तेमाल से मुंह मोड़ लिया.

(इनपुट- धर्मेंद्र)

ये भी पढ़ें-

Tags:Lalu Prasad Yadav, Lok Sabha Election, Tejaswi yadav