Home / News / bihar /

bihar state election commission declared the list of municipal election symbols nodaa

राज्य निर्वाचन आयोग ने घोषित की नगर निकाय चुनाव चिह्न की सूची, मनचाहा चिह्न ले सकेंगे उम्मीदवार

25 चुनाव चिह्न सुरक्षित रखे गए हैं.

25 चुनाव चिह्न सुरक्षित रखे गए हैं.

Election Symbols: निर्वाचन आयोग का कहना है कि 25 सुरक्षित चुनाव चिह्न के बावजूद अगर अलग से चिह्न की जरूरत पड़ती है तो आयोग से विचार कर इसे जारी किया जाएगा. आयोग ने निर्वाचन अधिकारियों को भेजे गए पत्र में कहा है कि चुनाव चिह्न नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायत क्षेत्र के प्रत्याशियों के लिए जारी किया गया है.

पटना. बिहार राज्य निर्वाचन आयोग ने नगर निकायों और निगमों के चुनाव के लिए शुक्रवार को चुनाव चिह्न की सूची जारी कर दी है. निर्वाचन आयोग की तरफ से मुख्य पार्षद के लिए कुल 32 चुनाव चिह्न, उप मुख्य पार्षद के लिए 21 और वॉर्ड पार्षद के पद के लिए 36 चुनाव चिह्न जारी किए गए. साथ में सुरक्षित चुनाव चिह्न के रूप में 25 प्रतीक चिह्न रखे गए हैं.

निर्वाचन आयोग का कहना है कि 25 सुरक्षित चुनाव चिह्न के बावजूद अगर अलग से चिह्न की जरूरत पड़ती है तो आयोग से विचार कर इसे जारी किया जाएगा. आयोग ने निर्वाचन अधिकारियों को भेजे गए पत्र में कहा है कि चुनाव चिह्न नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायत क्षेत्र के प्रत्याशियों के लिए जारी किया गया है. नगर निकाय चुनाव 2022 में इस बार प्रत्याशी सिफारिश के माध्यम से मनचाहा चुनाव चिह्न हासिल कर सकेंगे. सॉफ्टवेयर के माध्यम से प्रत्याशियों के बीच चुनाव चिह्न का आवंटन किया जाएगा. आयोग ने कहा कि जल्दी ही सॉफ्टवेयर विकसित करा दिया जाएगा. नामांकन पत्रों की जांच के बाद पर्चा सही पाए जाने पर प्रत्याशियों के बीच सॉफ्टवेयर की मदद से ही चुनाव चिह्न का आवंटन किया जाएगा. आयोग द्वारा जिला निर्वाचन पदाधिकारियों को भेजे गए पत्र में इस बात की चर्चा की गई है कि प्रत्याशियों की सूची देवनागरी लिपि में हिंदी नाम के पहले अक्षर के वर्नाकुलर अनुक्रम के अनुसार बनेगी.


वॉर्ड पार्षद के प्रत्याशियों के लिए चुनाव चिह्न

ढोलक, कलम-दवात, टेम्पो, मोमबत्ती, वायुयान, काठगाड़ी, मोर, चिमनी, टूल, पुल, कैमरा, जोड़ा बैल, खजूर का पेड़, बाल्टी, जग, चापाकल, टोकरी, उगता हुआ सूरज, तोता, टेलीविजन, टार्च, डीजल पंप, टॉफी, गाजर, ट्रैक्टर, मोबाइल, कुआं, कुर्सी, स्टोव, ब्लैक बोर्ड, ऊंट, किताब, सिटी, सेव, हंसिया, केतली और गैस का चूल्हा.

आपके शहर से (पटना)

पटना-गया-डोभी फोरलेन से जोड़े जा रहे 9 बाइपास, पटना हाईकोर्ट की मॉनिटरिंग में हो रहा काम

अमीर बनने की ख्वाहिश में दिनदहाड़े लूटते थे बैंक, रिश्तेदारों के घर छिपाया जाता था कैश

7 जुलाई के बाद क्या RCP सिंह बचा सकेंगे कुर्सी या JDU कोटे से किसी और को मिलेगा मौका ?

क्या महज 5 लाख दहेज के लिए मार दी गई काजल? बेगूसराय में पंखे से लटका मिला शव

'जीवन की सांझ' की दर्दनाक कहानी, बेटे-बहू ने मां-बांप को घर से निकाला, वीडियो वायरल

गया में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, एके-56, AK-47 जैसे हथियार के साथ नक्सली गिरफ्तार

काली कमाई का 'कुबेर' निकला ड्रग इंस्पेक्टर, घर से 4 करोड़ कैश, 38 लाख के गहने बरामद

सीवान में ठेकेदार की गोली मारकर हत्या, हाल में ही लड़ा था मुखिया का चुनाव

OMG! 12 घंटे तक नदी की तेज धार में बहता रहा किसान, 23 किलोमीटर दूर जाकर बची जान

बचपन का प्यार के लिए इंजीनियर शौहर का कत्ल, बीवी ने आशिक को घर बुलाकर करवाया खून

नौकरी लगते ही प्रेमिका से शादी करने से मुकरा कांस्टेबल, SP ने हड़काया तो लिये सात फेरे


उप मुख्य पार्षद के लिए चुनाव चिह्न

गेहूं की बाली, पीपल का पत्ता, घड़ा, चश्मा, कुल्हाड़ी, टेबल फैन, तितली, पानी का जहाज, आम, स्कूटर, रोड रोलर, बकरी, हाथ ठेला, बत्तख, तराजू, कार, छाता, डमरू, घोड़ा, तबला और डोली.

मुख्य पार्षद के लिए चुनाव चिह्न

कप और प्लेट, मोटरसाइकिल, नल, ताला-चाबी, टमटम, प्रेशर कुकर, सिलाई मशीन, कबूतर, चरखा, चारपाई, टाइपराइटर, मछली, वैन, मेज, टेबल लैंप, रेलइंजन, गैस सिलेंडर, हारमोनियम, बल्ब, जमा हुआ दीया, कोट, जोड़ा हिरण, मुर्गा, तुरही, कछुआ, लेटर बाक्स, सीढ़ी स्टूल, कुदाल, अलमीरा, जीप और शंख.

Tags:Bihar News, Election commission, Municipal elections