होम / न्यूज / बिहार /

Bihar: मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कांग्रेस मुख्यालय में बवाल, प्रभारी को दी गालियां

Bihar: मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कांग्रेस मुख्यालय में बवाल, प्रभारी को दी गालियां

पटना में बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास के साथ गाली-गलौज की घटना हुई है

पटना में बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास के साथ गाली-गलौज की घटना हुई है

Nitish Cabinet Expansion: बिहार में नीतीश कुमार की मंत्रिमंडल के विस्तार के पहले कांग्रेस में मंत्री पद के लिए नाराजगी सोमवार को जबर्दस्त तरीके से बाहर आई. पार्टी मुख्यालय सदाकत आश्रम में कार्यकर्ताओं ने न केवल हंगामा किया बल्कि बिहार कांग्रेस प्रभारी को आपत्तिजनक शब्द भी कहे.

हाइलाइट्स

कांग्रेस के नेताओं की इस नाराजगी को लेकर काफी देर तक अफरातफरी मची रही
वो लगातार भक्त चरण दास का विरोध कर रहे थे
बिहार में मंगलवार को मंत्रिमंडल का विस्तार होना है

रिपोर्ट–संजय कुमारकोड–BRSKहेडर– नीतीश मंत्रिमंडल के विस्तार के पहले कांग्रेस में मंत्री पद के लिए नाराजगी आई बाहर सदाकत आश्रम में हंगामा कार्यकर्ताओं ने सुनाई बिहार कांग्रेस प्रभारी को खरी-खोटी

पटना. बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन की नई सरकार के मंत्रिमंडल का मंगलवार को विस्तार हो रहा है. मंगलवार की शाम राज्यपाल फागू चौहान महागठबंधन के विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाएंगे. मंत्रिमंडल में कांग्रेस को तीन सीटें देने का भरोसा नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव ने दिलाया है लेकिन इस बीच स्वतंत्रता दिवस के दिन ही कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में कांग्रेस में मंत्री पद की संख्या को लेकर कार्यकर्ताओं और बिहार कांग्रेस प्रभारी भक्त चरण दास के बीच नोकझोंक हो गई .

इस दौरान कांग्रेस के कुछ नेता और कार्यकर्ता अपनी मर्यादा भूल गए और भक्त चरण दास को गाली गलौज तक कर दिया. दरअसल कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता कांग्रेस को केवल तीन सीटें मिलने पर बेहद खफा दिख रहे थे. बिहार कांग्रेस के पूर्व महासचिव मोहम्मद गयासुद्दीन खान की अगुवाई में कांग्रेस के कार्यकर्ता मांग कर रहे थे कि कांग्रेस को कम से कम 5 सीटें मिलनी चाहिए क्योंकि हम के 4 विधायकों पर उन्हें एक मंत्री पद से नवाजा जा रहा है. भक्त चरण दास जैसे ही तिरंगा मार्च के लिए सदाकत आश्रम से बाहर निकलने लगे इन कार्यकर्ताओं से उनकी कहासुनी हो गई.


आपके शहर से (पटना)

CSBC Bihar Police Admit Card 2022 Released: CSBC ने जारी किया प्रोहिबिशन कांस्टेबल का एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड 

बिहार: सायबर अपराधियों के निशाने पर अफसर, छपरा डीएम के नाम पर मांगी जा रही रकम

तेजस्वी यादव ने की नई शुरुआत, ट्विटर के जरिए युवक को पहुंचाई मदद; IGIMS में कराई बेड की व्यवस्था

Navratri 2022: मंदिर के फर्श पर सीधा लेट गया ये भक्त, सीने पर स्थापित कर लिया कलश

BREAKING: बिहार में सुबह-सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट, आरा में भाजपा नेता को मारी गोली

Munger: मेगा क्रेडिट कैंप का आयोजन कर एक दिन में बांटे गये 136.70 करोड़ रुपये लोन

Video: 'हाथ मत छोड़ना, मर जाऊंगा', स्पीड में थी ट्रेन और खिड़की पर लटका युवक लगाता रहा गुहार

बिहार में होने वाले नगर निकाय चुनाव पर क्या लगेगी रोक? पटना HC 4 अक्टूबर को सुनाएगा फैसला

कैमूर: रामगढ़ सरस्वती शिशु मंदिर से 3 साल की मासूम बच्ची का अपहरण

बिहार इन्वेस्टर्स मीट: अडानी ग्रुप ने की बिहार सरकार की तारीफ, नीतीश-तेजस्वी ने कही यह बात

PFI पर बैन क्या बिहार की सियासत पर ज्यादा असर डालेगा? भाजपा का बड़ा इशारा


हालांकि बाद में वहां मौजूद पार्टी के दूसरे वरिष्ठ नेताओं ने बिहार कांग्रेस प्रभारी को किसी तरह बाहर निकाला ताकि तिरंगा मार्च में शामिल हो सकें लेकिन गयासुद्दीन खान और आपात खान जैसे नेताओं ने जिस तरीके से विरोध जताना शुरू किया वैसे मैं वहां पर माहौल अफरा-तफरी का बन गया. इन दोनों नेताओं ने मीडिया में खुलकर अपनी आपत्ति जताई और अपमानजनक टिप्पणी करने से भी गुरेज नहीं किया. आमतौर पर कांग्रेस अनुशासित पार्टी मानी जाती है लेकिन जिस तरीके से आज कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में तस्वीर सामने आई उससे कई सवाल खड़े हो गए.

Tags:Bihar News, Congress, PATNA NEWS

अधिक पढ़ें