भाषा चुनें :

हिंदी

सुहागरात के अगले ही दिन दूल्हे की मौत, शादी की दावत में शामिल 15 लोग मिले Corona पॉजिटिव
Patna News in Hindi

पटना जिला के डीहपाली गांव निवासी युवक की 15 जून को शादी (Marriage) हुई थी. युवक दिल्ली से हाल में ही आया था.

कानपुर में एक कोरोना संदिग्ध की मौत के बाद सरकारी लापरवाही का मामला सामने आया है.

आदित्य आनंद


पटना. बिहार में कोरोना (Corona Epidemic) का कहर लगातार बढ़ रहा है. राज्य में इस वायरस से बीमार होने वालों की संख्या 7800 के करीब हो गई है. इस बीमारी ने राजधानी पटना को भी चपेट में ले रखा है. ताजा मामला पटना के पालीगंज इलाके से जुड़ा है जहां कोरोना बम फटा है. पालीगंज में एक साथ 15 कोरोना संक्रमित (Corona Positive) मरीज मिलने के साथ ही पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है. खास बात यह है कि ये सभी पालीगंज के डीहपाली गांव में 15 जून को शादी समारोह में जमकर दावत उड़ाए थे.


जिस शादी से सभी कोरोना से ग्रसित हुए हैं, उस दूल्हे की मौत शादी के दो दिनों के बाद यानी की सुहागरात के अगले दिन 17 जून को ही इलाज के दौरान हो गई थी. गांव के लोग दूल्हे की मौत का कारण भी कोरोना बता रहे हैं, लेकिन आधिकारिक तौर पर इसकी कोई पुष्टि नहीं कर रहा है. दूल्हे की मौत के बाद उसके मां-बाप का भी सैंपल अभी तक जांच के लिए नहीं लिया गया है. इस घटना के बाद प्रशाशन अलर्ट मोड में आया और उस शादी से संबंधित जितने भी इलाके के लोग थे सभी लगभग 125 लोगों का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया था. साथ ही सभी मुहल्लों को सील कर दिया गया था, जहां से सैम्पल लिये गये थे. फिलहाल जिला प्रशासन ने सभी पॉजिटिव मरीजों को इलाज कर लिए मसौढ़ी स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है.


अधिकारियों के मुताबिक डीहपाली गांव निवासी एक युवक की विगत 15 जून को शादी हुई थी. बताया जाता है कि युवक दिल्ली से हाल में ही आया था. जब वो घर आया उस समय बिहार में क्वारेंटाइन सेंटर्स बन्द हो चुके थे, जिसके बाद उसे होम क्वारेंटाइन कर दिया गया था. शादी के दूसरे दिन यानी 17 जून को पेट दर्द की शिकायत के बाद उसे निजी क्लीनिक में भर्ती कराया गया, जिसके बाद उसे पटना भेज दिया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी थी.




बाद में प्रखंड विकास पदाधिकारी चिरंजीवी पांडेय के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मामले की छानबीन की और मृत युवक के स्वजनों सहित कोरोना संक्रमण की जांच के लिए करीब 125 लोगों का सैम्पल लिया. बताया जाता है कि लैब में सैम्पल जांच के बाद 15 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गये. प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो पालीगंज बाजार में सब्जी विक्रेता का भी सैम्पल लिया गया, लेकिन सभी की रिपोर्ट निगेटिव है. पालीगंज बाजार में एक साथ इतनी संख्या में कोरोना मरीज मिलने के इलाके में दहशत का माहौल है. बीडीओ चिरंजीवी पांडेय ने बताया कि संक्रमित पाये जाने वाले गांव व मुहल्ले को चिन्हित करके सील कर दिया गया है.