Home / News / bihar /

single use plastic ban in bihar heavy fine if caught nodaa

बिहार में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक की बिक्री और इस्तेमाल पर प्रतिबंध, पकड़े जाने पर भारी जुर्माना

बिहार में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक की बिक्री और इस्तेमाल पूरी तरह से प्रतिबंधित.

बिहार में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक की बिक्री और इस्तेमाल पूरी तरह से प्रतिबंधित.

Big Decision: बिहार में सिंगल यूज प्लास्टिक शीट, कैरी बैग, पैकेजिंग सामग्री, थर्मोकोल और इससे उत्पादित कप प्लेट, गिलास, कांटा, चम्मच, कटोरी की बिक्री और इसका उपयोग किसी भी हाल में नहीं किया जा सकता. पकड़े जाने पर आमलोगों को 500 से लेकर 2000 और औद्योगिक स्तर पर इस्तेमाल पर 20 हजार से लेकर 1 लाख रुपए तक जुर्माना या फिर 5 साल की जेल या दोनों सजाएं एक साथ दी जा सकती हैं.

पटना. बिहार में आज से सभी तरह के प्लास्टिक कैरी बैग की बिक्री और इसके उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया गया. प्रतिबंध लगाने का फैसला पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग ने किया है. इस फैसले के मुताबिक, बिहार में सिंगल यूज प्लास्टिक शीट, कैरी बैग, पैकेजिंग सामग्री, थर्मोकोल और इससे उत्पादित कप प्लेट, गिलास, कांटा, चम्मच, कटोरी की बिक्री और इसका उपयोग किसी भी हाल में नहीं किया जा सकता.

बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के मुताबिक, केंद्र और राज्य सरकार के निर्देश पर सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रदेश में आज से प्रतिबंध लागू कर दिया गया है. इसके लिए 6 महीने से जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा था. अब समूचे प्रदेश में सिंगल यूज प्लास्टिक के सीधे उपयोग के साथ-साथ पैकेजिंग में भी उसका उपयोग प्रतिबंधित कर दिया गया है. पकड़े जाने पर आमलोगों को 500 से लेकर 2000 और औद्योगिक स्तर पर इस्तेमाल पर 20 हजार से लेकर 1 लाख रुपए तक जुर्माना या फिर 5 साल की जेल या दोनों सजाएं एक साथ दी जा सकती हैं.


बिहार राज्य पर्यावरण प्रदूषण परिषद के अध्यक्ष के मुताबिक, नए नियम के अनुसार प्लास्टिक के झंडों की बिक्री पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. इसके साथ ही पानी का पाउच और पैकेट भी अब नहीं बेचे जा सकेंगे. इसके उपयोग भंडारण आदि सभी पर रोक लगा दी गई है. प्लास्टिक के कैरी बैग, थर्मोकोल के कप-प्लेट, ईयर बर्ड गुब्बारा, स्टिक, फ्लैग, प्लास्टिक ग्लास, चाकू, मिठाई के लिए प्लास्टिक का डब्बा, निमंत्रण कार्ड, सिगरेट पैकेट 100 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक और पीवीसी बैनर पर प्रतिबंध जारी रहेगा.

आपके शहर से (पटना)

बालू कारोबारी की दिनदहाड़े हत्या, थाना से कुछ दूर पर ही शूटर्स ने मारी गोलियां

स्वतंत्रता दिवस पर स्कूल की छत की रेलिंग गिरी, हादसे में 17 बच्चे घायल, 4 की हालत गंभीर

BTSC ANM Recruitment 2022: बिहार में 10,000 से अधिक पदों पर सरकारी नौकरी का मौका, बस होनी चाहिए ये डिग्री

महागठबंधन सरकार के कैबिनेट विस्तार में कांग्रेस के बनेंगे 2 मंत्री, आज होगी नामों की घोषणा

फोन कर क्रेडिट कार्ड से ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 2 साइबर अपराधी गिरफ्तार

नीतीश कुमार के खिलाफ गिरिराज सिंह ने खोला मोर्चा, कहा- अंतिम बार बने हैं मुख्यमंत्री

16 अगस्त को होगा महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार! मंत्रियों के नाम कल होंगे फाइनल

महागठबंधन सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार का फॉर्मूला तय, आज 31 लोग लेंगे मंत्री पद की शपथ

बिहार BJP कोर कमेटी की मंगलवार को दिल्ली में बैठक, दोनों सदनों में नेता चुनने पर होगा मंथन

Bihar: मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कांग्रेस मुख्यालय में बवाल, प्रभारी को दी गालियां

पटना में स्कूल से झंडोत्तोलन कर लौट रहे दो शिक्षकों की ट्रेन से कटकर मौत


बिहार राज्य नियंत्रण पर्षद ने स्पष्ट कर दिया है कि वैसे उत्पाद जो प्लास्टिक की पैकेजिंग से बनाई गई हैं या जिससे प्लास्टिक का कंपोस्ट बनाया जा सकता है, उस पर किसी तरह का प्रतिबंध नहीं लगाया गया है. हालांकि सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध इतना भी आसान नहीं है. यह प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती है. पहले के अनुभव यही बताते रहे हैं. घर से लेकर बाजार, कार्यालय चारों तरफ सिंगल यूज प्लास्टिक पर निर्भरता बढ़ गई है. अब यह आनेवाला समय बताएगा कि यह बैन व्यावहारिक रूप में कितना असरदार होगा.

Tags:Ban, Bihar News, Single use Plastic