विजय माल्या और अरुण जेटली की मुलाकात पर सरकार जवाब दे - तेजस्वी यादव

माल्या के ताजा बयान के बाद आरजेडी सहित कई विपक्षी दलों ने वित्त मंत्री अरुण जेटली और पीएम मोदी पर हमला करना शुरू कर दिया है.

news18 hindi , News18 Bihar
भारतीय बैंकों से अपनी कंपनी किंगफिशर एयलाइन्स के लिए 9 हजार करोड़ रूपए कर्ज लेकर डकार जाने वाले भगोड़े कारोबारी विजय माल्या ने ये कह कर सनसनी फैला दी है कि देश छोड़ने से पहले उन्होंने वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की थी. माल्या के बयान के बाद विपक्ष ने जेटली से इस्तीफे की मांग की है. बिहार में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने भी नरेंद्र मोदी सरकार पर भगोड़ों से सांठगांठ का आरोप लगाया है.माल्या के बयान के बाद विपक्ष ने वित्त मंत्री अरुण जेटली और मोदी सरकार पर हमला करना शुरू कर दिया है. वहीं, बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार घोटालेबाजों और भगोड़ों के साथ हाथ मिलाए हुए है. उन्होंने मिलकर हजारों करोड़ के लूट की साजिश रची. पीएम मोदी और वित्त मंत्री को इसका जवाब देना चाहिए.

बता दें कि माल्या पर भारतीय बैंकों से करीब 9000 करोड़ रुपये के लोन की धोखाधड़ी का आरोप है. इससे पहले जुलाई में वेस्टमिन्स्टर मजिस्ट्रेट की अदालत की न्यायाधीश एमा अर्बुथनाट ने उनके ‘‘संदेहों को दूर करने के लिए’’ भारतीय अधिकारियों से ऑर्थर रोड जेल की बैरक नंबर 12 का ‘सिलसिलेवार वीडियो’ जमा करने को कहा था.ये भी पढ़ें-प्रत्यर्पण मामलाः लंदन कोर्ट में पेशी से पहले बोले माल्या- सबका हिसाब चुकता कर दूंगाप्रत्यर्पण मामलाः लंदन कोर्ट में पेशी से पहले बोले माल्या- सबका हिसाब चुकता कर दूंगाराफेल डील पर एयरफोर्स चीफ ने किया सरकार का समर्थन, कहा- भारत के सामने है गंभीर खतरा

Trending Now