Home / News / bihar /

sneha father repeatedly ruined her married life sheikhpura family court reprimanded the father nodaa

शेखपुरा की स्नेहा का दुख, पिता बार-बार उजाड़ता रहा बेटी का घर, फैमिली कोर्ट ने लगाई फटकार

फैमिली कोर्ट में पिता के खिलाफ बयान देने वाली स्नेहा (दाएं) अपने पति रंजीत के साथ.

फैमिली कोर्ट में पिता के खिलाफ बयान देने वाली स्नेहा (दाएं) अपने पति रंजीत के साथ.

Family Court: शेखपुरा के फैमिली कोर्ट में चल रहे एक केस के दौरान एक नाटकीय घटनाक्रम में बेटी ने अपने पिता पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उसकी पहली शादी तुड़वा दी. इसके बाद पिता ने जबरन दवा और इंजेक्शन देकर उसकी याददाश्त कमजोर की और फिर दूसरे शादी करा दी. अब इस शादी को भी तोड़ना चाहते हैं.

शेखपुरा. नालंदा जिले के शेखपुरा से एक पिता की ऐसी करतूतें सामने आई हैं, जिन्हें जानकर आप भी अफसोस करेंगे. यहां कोर्ट में चल रहे एक केस के दौरान नाटकीय घटनाक्रम में एक बेटी ने अपने पिता पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उसकी पहली शादी तुड़वा दी. इसके बाद पिता ने जबरन दवा और इंजेक्शन देकर उसकी याददाश्त कमजोर की और फिर दूसरे शादी करा दी. अब इस शादी को भी तोड़ना चाहते हैं.

मामला शेखपुरा के कतरीसराय का है. स्नेहा गुप्ता कतरीसराय के संजय गुप्ता की बेटी हैं. स्नेहा के मुताबिक, 7 साल पहले उसने बाढ़ के रहनेवाले दीपक से प्रेम विवाह किया था. स्नेहा ने बताया कि अपने ननिहाल में रहते हुए ही उन्हें दीपक से प्यार हुआ था और फिर दोनों ने शादी कर ली थी. इस प्रेम विवाह से स्नेहा के पिता बुरी तरह नाराज हुए थे. लेकिन इस युवा दंपति ने साथ रहने का इरादा नहीं त्यागा. कुछ दिनों बाद स्नेहा ने एक बच्ची को जन्म दिया.


स्नेहा के मुताबिक, उसके पिता दिसंबर 2018 को बाढ़ पहुंचे और उसे अपने साथ कतरीसराय ले आए. स्नेहा ने बताया कि उसके पिता संजय गुप्ता ग्रामीण प्रैक्टिस्नर हैं. उन्होंने मेरी यादाश्त कमजोर करने के उद्देश्य से इंजेक्शन और कई दवा खिलाई. उसके बाद 30 जून 2019 को बरबीघा के रहनेवाले रंजीत के साथ शादी करवा दी.

आपके शहर से (शेखपुरा)

बिहार: इस जिले में डीएम साहब खुद लगाते हैं क्लास, करते हैं संवाद, जानिये क्या है मकसद?

अग्निपथ योजना: तेजस्वी यादव पर बरसे BJP सांसद रामकृपाल यादव, कहा- सत्ता पाने की है जल्दबाजी

दादा के साथ खेत गए पोते को सांप ने डसा तो 2 घंटे तक झाड़-फूंक कराते रहे परिजन, जानें फिर आगे क्‍या हुआ?

तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की हाईकोर्ट में हुई काउंसलिंग, पूछा गया- साथ रहना है, या नहीं?

RJD विधायक को विधानसभा में लगा चूना,अग्निपथ विरोध के दौरान इंगेजमेंट रिंग से गायब हुआ हीरा

अग्निपथ योजना: सदन की कार्यवाही का विपक्ष ने किया वॉक आउट, सत्ताधारी JDU के सदस्य भी रहे नदारद

VIDEO: बिहार के स्कूल में चला 'हउ वाला फील द' सांग, साथ-साथ मजा लेते रहे गुरुजी और बच्चे

एकतरफा प्यार में शैतान बना प्रेमी, दोस्तों के साथ युवती से किया गैंगरेप फिर कर दी हत्या

OMG! बर्थडे पार्टी में नाचने से इंकार किया तो प्राइवेट पार्ट में डाल दिया 12 इंच लंबा टॉर्च, जानें पूरा मामला

बिहार सरकार की श्रावणी मेले की तैयारी: टेंट सिटी बनाने के साथ लगेंगे LED स्‍क्रीन, गंगा घाट पर मिलेंगी कई सुविधाएं

SDO के बॉडीगार्ड ने सरकारी आवास में खुद को गोली मारी, घरेलू समस्या से था परेशान


बाद के दिनों में रंजित के साथ भी स्नेहा के पिता ने रिश्ता बिगाड़ा. स्नेहा के पिता ने रंजित और उसके पूरे परिवार के विरुद्ध 498 A के तहत बरबीघा थाने में केस दर्ज करवाया. रंजीत को कई दिन जेल में रहना पड़ा. दूसरी तरफ परिवार न्यायालय ने रंजीत को आदेश दिया कि वह स्नेहा को 10 हजार रुपया प्रति महीना मेंटेनेनस के रूप में दे.

इस चल रहे मामले में परिवार न्यायालय में मंगलवार को स्नेहा ने अपने बयान से सबको चौंका दिया. स्नेहा ने भरी अदालत में अपनी पहली शादी और पिता की भूमिका की बात बेखौफ होकर कही. स्नेहा ने यह भी कहा कि इस दूसरी शादी को भी उसके पिता तबाह कर देना चाहते हैं, इसीलिए उन्होंने रंजीत के परिवार के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है. स्नेहा ने परिवार न्यायालय में कहा कि वह अपने दूसरे पति के साथ रहना चाहती है. स्नेहा की कहानी सुनकर रंजीत को भी दया आ गई. उसने स्नेहा को बेकसूर बताया और स्नेहा के पिता को इस पूरे मामले के लिए जिम्मेवार बताया. रंजीत के अधिवक्ता सूरज रजक ने न्यायालय से अनुरोध करते हुए स्नेहा के पिता पर कारवाई करने का अनुरोध किया है. न्यायालय ने स्नेहा का बयान दर्ज कर पिता को फटकार लगाई है. अब इस मामले में अदालत के फैसले का इंतजार है.

Tags:Bihar News, Family Court, Family dispute