मनी

Powered by
  • Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • अब WhatsApp पर मिलेगी नौकरी की जानकारी, इस नंबर पर लिखकर भेजें Hi, सरकारी चैटबॉट करेगा मदद

अब WhatsApp पर मिलेगी नौकरी की जानकारी, इस नंबर पर लिखकर भेजें Hi, सरकारी चैटबॉट करेगा मदद

सरकार की इस पहल से आपको वॉट्सऐप (WhatsApp) नंबर पर बस 'Hi' लिखकर भेजना होगा. उसके बाद चैटबॉट के जरिये आपको अपने स्किल के हिसाब से गृह राज्य में नौकरी की जानकारी मिल जाएगी.

 सिर्फ एक छाेटी सी सेटिंग्स से आप इससे बच सकते है
सिर्फ एक छाेटी सी सेटिंग्स से आप इससे बच सकते है

नई दिल्ली. भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) ने लोगों की जरूरत को ध्यान में रखते हुए वॉट्सऐप (WhatsApp) पर एक नई सुविधा शुरू की है. सरकार की इस पहल से वाट्सऐप पर सिर्फ एक ‘Hi’ लिखकर भेजने से व्यक्ति को अपने गृह राज्य में स्किल के हिसाब से नौकरी की जानकारी मिल जाएगी. ये काम विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा शुरू किए गए एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) चैटबॉट से हो सकेगा.

SAKSHAM नाम के पोर्टल से मिलेंगी जानकारी
साइंस एंड टेक्नोलॉजी डिमार्टमेंट की टेक्नोलॉजी इनफॉर्मेशन फोरकास्ट और एव्युलूशन काउंसिल (TIFAC) ने श्रम शक्ति मंच (SAKSHAM) नामक एक पोर्टल बनाया है. इस पोर्टल से उस क्षेत्र के मजदूरों को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) से वाट्सऐप के माध्यम से जोड़ने का काम किया जाएगा. इसके बाद लोगों को आराम से अपने क्षेत्र में नौकरी व अवसरों के बारे में जानकारी मिल जाएगी.

इस नंबर पर लिखकर भेजना होगा Hi
इस सुविधा का लाभ लेने के लिए 7208635370 WhatsApp नंबर पर Hi लिखकर भेजना होगा. उसके बाद चैटबॉट के जरिए उस व्यक्ति से उनके कार्य अनुभव व स्किल के बारे में जानकारी मांगी जाती है. प्राप्त जानकारी के आधार पर, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सिस्टम यूजर को उसके आस पास उपलब्ध नौकरी के बारे में जानकारी देता है.

संबंधित खबरें

ये भी पढ़ें: नौकरी की बात : फोन या कम्प्यूटर की बजाय नौकरी खोजने के लिए एम्प्लायर्स से ईमेल व Linkdin पर करें सीधे बात

कैसे काम करता है ये चैटबॉट
इस पोर्टल में देशभर के MSMEs को उस क्षेत्र के नक्शे के माध्यम से जोड़ा जाएगा. उसके बाद नौकरियों की उपलब्धता और आवश्यक, स्किल पर डेटा का यूज कर पोर्टल अपने क्षेत्रों में संभावित रोजगार के अवसरों की जानकारी मजदूरों को देगा.

दो भाषा में है उपलब्ध
TIFAC के कार्यकारी निदेशक प्रदीप श्रीवास्तव के अनुसार, इस समय चैटबॉट केवल अंग्रेजी और हिंदी दो भाषओं में उपलब्ध है. इसे अन्य भाषाओं में विस्तारित करने पर काम चल रहा है.

स्मार्टफोन नहीं होने पर इस नंबर दें मिस्ड कॉल
कई व्यक्ति ऐसे भी हैं जिनके पास स्मार्टफोन नहीं है. ऐसे लोग ऑफ़लाइन एडिशन को 022-67380800 पर मिस्ड कॉल देकर एक्सेस कर सकते हैं. इस पोर्टल का उपयोग इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, कृषि श्रमिकों और अन्य लोगों द्वारा किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: लोन चाहिए तो इस एक बात का रखें खास ध्यान, बैंक या नॉन-बैंकिंग कंपनी तुरंत करेंगे अप्रुव

TIFAC के कार्यकारी निदेशक प्रदीप श्रीवास्तव के अनुसार, SAKSHAM की शुरुआत कोरोना महामारी के दौरान हुई थी. महामारी के कारण लगाये गए लॉकडाउन में पूरे देश के लाखों प्रवासी मज़दूर अपने गृहराज्य लौट आए थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.