लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबक्रिकेटआईपीएल 2023वेब स्टोरीजफूडमनोरंजनफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#GiveWingsToYourSavings#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealthCryptocurrencyPrivacy PolicyCOOKIE POLICY
होम / न्यूज / धर्म /

आज का पंचांग 1 अप्रैल 2023: कामदा एकादशी व्रत, शनि पूजा से कष्ट मिटेंगे, जान लें शुभ मुहूर्त ओैर राहुकाल

आज का पंचांग 1 अप्रैल 2023: कामदा एकादशी व्रत, शनि पूजा से कष्ट मिटेंगे, जान लें शुभ मुहूर्त ओैर राहुकाल

Aaj Ka Panchang 1 april 2023: आज अंग्रेजी कैलेंडर का चौथा माह अप्रैल शुरु हुआ है और पहले दिन एकादशी व्रत है. इस दिन कामदा एकादशी व्रत रखते हैं और श्री नारायण की पूजा करते हैं. आज के पंचांग से जानते हैं शुभ मुहूर्त, शुभ योग, सूर्योदय, चंद्रोदय, दिशाशूल, राहुकाल आदि.

01 अप्रैल 2023 का पंचांग

01 अप्रैल 2023 का पंचांग

हाइलाइट्स

आज चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है.
आज शनिवार का दिन कर्मफलदाता शनि देव की आराधना का है.

आज का पंचांग 1 अप्रैल 2023: आज चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है. आज अंग्रेजी कैलेंडर का चौथा माह अप्रैल शुरु हुआ है और पहले दिन एकादशी व्रत है. इस दिन कामदा एकादशी व्रत रखते हैं और श्री नारायण की पूजा करते हैं. भगवान विष्णु की पूजा करने से पापों से मुक्ति मिलती है. जीवन के अंत समय में व्यक्ति को स्वर्ग की प्राप्ति होती है. आज एकादशी के दिन चावल का सेवन नहीं करते हैं. कहा जाता है कि चावल की उत्पत्ति भगवान विष्णु के रोम से हुई है, इसलिए चावल का सेवन वर्जित होता है. एकादशी को सभी व्रतों में श्रेष्ठ माना जाता है क्योंकि इससे श्रीहरि की कृपा प्राप्त होती है ओर यह मनुष्यों को मोक्ष प्रदान करता है. एकादशी व्रत का पारण हमेशा हरि वासर के समापन के बाद ही करते हैं. इस बार कामदा एकादशी व्रत का पारण कल दोपहर के समय में है.

आज शनिवार का दिन कर्मफलदाता शनि देव की आराधना का है. शनि देव की पूजा करने से कष्ट दूर होते हैं. जो लोग शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या से परेशान हैं, वे शनि देव की पूजा करें. शनि मंदिर में जाकर छाया दान करें. गरीबों को कंबल, वस्त्र, जूते, चप्पल, लोहा, काला तिल, काली उड़द आदि का दान देना चाहिए. शनि चालीसा का पाठ करें, शनिवार व्रत कथा का श्रवण करें तो भी आपको लाभ होगा. इस दिन शनि रक्षा स्तोत्र पढ़ने से शनि देव प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों की रक्षा करते हैं. शनि कवच का पाठ भी लाभकारी माना जाता है. आज के पंचांग से जानते हैं शुभ मुहूर्त, शुभ योग, सूर्योदय, चंद्रोदय, दिशाशूल, राहुकाल आदि.

01 अप्रैल 2023 का पंचांग
आज की तिथि – एकादशीआज का नक्षत्र – आश्लेषाआज का करण – वणिजआज का पक्ष – शुक्लआज का योग – धृतिआज का वार – शनिवारआज का दिशाशूल – पूर्व

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय
सूर्योदय – 06:11:54सूर्यास्त – 18:38:51चन्द्रोदय – 14:20:00चन्द्रास्त – 28:12:59चन्द्र राशि– कर्क

हिन्दू मास एवं वर्ष
शक सम्वत – 1945 शुभकृतविक्रम सम्वत – 2080दिन काल – 12:26:56मास अमांत – चैत्रमास पूर्णिमांत – चैत्रशुभ समय – 12:00:29 से 12:50:17 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)
दुष्टमुहूर्त: 06:11:54 से 07:01:42 तक, 07:01:42 से 07:51:30 तककुलिक– 07:01:42 से 07:51:30 तककंटक– 12:00:29 से 12:50:17 तकराहु काल– 09:18:39 से 10:52:01 तककालवेला/अर्द्धयाम– 13:40:05 से 14:29:53 तकयमघण्ट– 15:19:40 से 16:09:28 तकयमगण्ड– 13:58:45 से 15:32:07 तकगुलिक काल– 06:11:54 से 07:45:17 तक

.

Tags: Dharma Aastha, Lord vishnu, Shanidev

FIRST PUBLISHED : April 01, 2023, 06:00 IST
अधिक पढ़ें