Home / News / jharkhand /

niti aayog meeting today cm hemant soren may demand for a special package from pm narendra modi to deal with the drought bruk

नीति आयोग की बैठक में CM हेमंत सोरेन सुखाड़ से निपटने के लिए PM नरेंद्र मोदी से करेंगे विशेष पैकेज की मांग!

हेमंत सोरेन राज्य में सुखाड़ की स्थिति और इसके कारणों का उल्लेख करते हुए केंद्र सरकार से विशेष पैकेज की मांग कर सकते हैं.

हेमंत सोरेन राज्य में सुखाड़ की स्थिति और इसके कारणों का उल्लेख करते हुए केंद्र सरकार से विशेष पैकेज की मांग कर सकते हैं.

Jharkhand News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में रविवार यानि आज नीति आयोग के सातवें शासी निकाय की बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शामिल हो रहे हैं. इस बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत राज्य में सुखाड़ की स्थिति इसके कारणों का उल्लेख करते हुए मध्यम सिंचाई योजनाएं और विशेष पैकेज की मांग कर सकते हैं.

हाइलाइट्स

हेमंत सोरेन राज्य की विभिन्न स्थितियों की चर्चा करते हुए पीएम से सुखाड़ से निपटने को केंद्र से सहयाेग की मांग करेंगे.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हो रहे नीति आयोग की बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी शामिल हो रहे हैं.

रांची. झारखंड में इस बार मॉनसून की कम बारिश होने की वजह से सुखाड़ की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन राज्य की विभिन्न स्थितियों की चर्चा करते हुए पीएम से सुखाड़ से निपटने को केंद्र से सहयाेग की मांग करेंगे. सीएम माॅनसून आधारित कृषि व्यवस्था के स्थान पर उत्तम सिंचाई की कृषि व्यवस्था स्थापित करने के लिए बड़ी राशि की आवश्यकता पर जोर देंगे. दरअसल हेमंत सोरेन आज दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली नीति आयोग की बैठक में शामिल होने वाले हैं. इस दौरान हेमंत सोरेन झारखंड की स्थिति पर पीएम से चर्चा करेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में रविवार यानि आज नीति आयोग के सातवें शासी निकाय की बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शामिल हो रहे हैं. इस बैठक में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन राज्य में सुखाड़ की स्थिति और इसके कारणों का उल्लेख करते हुए मध्यम सिंचाई योजनाएं और विशेष पैकेज की मांग कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त सीएम सोरेन राज्य में किये जा रहे विभिन्न क्षेत्रों विशेष कर शिक्षा, कृषि और शहरी विकास की दिशा में किये जा रहे सरकार के प्रयासों का उल्लेख भी कर सकते हैं.


20% भूमि पर ही सुनिश्चित सिंचाई की सुविधा

आपके शहर से (रांची)

जब तक कर्मचारियों को वेतन नहीं..., झारखंड हाईकोर्ट ने तल्ख टिप्पणी कर IAS की रोकी सैलरी

पावर कट के कारण 11 मिनट ठप रहा बोकारो स्टील प्लांट, करोड़ों के नुकसान की आशंका

गिरिडीह में अपराधियों के हौसले बुलंद, जेलर से मांगी 2 करोड़ की रंगदारी, नहीं देने पर जान से मारने की धमकी

सट्टे के पैसे के लिए छात्रों ने उठाया खौफनाक कदम, पहले साथी को अगवा किया फिर मार डाला

'चुनाव आयोग का लिफाफा ऐसा चिपका कि खुल नहीं रहा', राज्यपाल रमेश बैस के जवाब पर छूटी हंसी

JSSC Recruitment 2022: JSSC में TGT, PGT के पदों पर अप्लाई करने की आज है अंतिम तिथि, इस Direct Link से जल्द करें आवेदन 

झारखंड में डायन बताकर 3 महिला समेत 4 को जबरन पिलाया मैला, पिटाई कर गर्म लोहे से शरीर को दागा

Sarkari Naukri 2022: सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ साइकेट्री में इन पदों पर आवेदन करने के बचे हैं कुछ दिन, जल्द करें अप्लाई  

शराब की लत के कारण पकड़ा गया शार्प शूटर, 8 माह से रांची पुलिस को दे रहा चकमा

झारखंड में लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटी बीजेपी, सभी 14 सीट जीतने का रखा लक्ष्य

Jharkhand: खूनी वर्चस्व की लड़ाई में JJMP का एरिया कमांडर विकास हुआ ढ़ेर 


बता दें राज्य में करीब 38 लाख हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि है। इसमें से 28 लाख हेक्टेयर भूमि में खरीफ तथा 10 लाख हेक्टेयर भूमि में रबी की खेती होती है. 20% भूमि पर ही सुनिश्चित सिंचाई की सुविधा उपलब्ध है. धान की भूमि पर दूसरे फसल लगाने की अभी तक कोई बड़ी योजना का कार्यान्वित नहीं है. इसके कारण किसान माॅनसून आधारित खेती पर ही निर्भर है. 18 लाख हेक्टेयर खरीफ भूमि में से लगभग 5 लाख हेक्टेयर भूमि में जैसे तैसे खेती होती है.

कौशल विश्वविद्यालय के बारे में भी कर सकते हैं चर्चा 

सीएम सोरेन नीति आयोग की बैठक में पंडित रघुनाथ मुरमू ट्राइबल विश्वविद्यालय और कौशल विश्वविद्यालय के बारे में जिक्र कर सकते हैं. राज्य में सकल नामांकन अनुपात को बढ़ाने के लिए पहले से उपलब्ध 63 सरकारी महाविद्यालयों के अतिरिक्त आकांक्षी जिलों, शैक्षणिक रूप से पिछड़े जिलों, दूरस्थ स्थानों में 66 नए सरकारी महिला महाविद्यालय, आदर्श महाविद्यालय, डिग्री महाविद्यालय की स्थापना के बारे में भी जानकारी साझा कर सकते हैं.

Tags:Hemant soren, Jharkhand news, Narendra modi

अधिक पढ़ें