Home / News / madhya-pradesh /

nagariya nikay chnav congress to change strategy party will select candidate unanimously mpns

मध्यप्रदेश नगर निकाय चुनाव के लिए कांग्रेस ने बदली चाल, इस रणनीति से चुने जाएंगे प्रत्याशी

Political News: मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने  नगरीय निकाय चुनाव को लेकर नई रणनीति तैयार की है.

Political News: मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने नगरीय निकाय चुनाव को लेकर नई रणनीति तैयार की है.

MP Congress News: नगरीय निकाय चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस ने अलग रणनीति तैयार की है. पार्टी ने निर्णय किया है कि चुनाव का प्रत्याशी स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं की रायशुमारी से तय किया जाए. इससे कार्यकर्ताओं के बीच सही संदेश जाएगा. इन चुनावों को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने नेताओं से कहा है कि ये चुनाव महत्वपूर्ण हैं और इसमें हमारे बीच किसी तरह की दूरियां नजर नहीं आनी चाहिए. पार्टी ये चुनाव बेरोजगारी, महंगाई और ओबीसी आरक्षण के मुद्दों पर लड़ेगी.

भोपाल. मध्य प्रदेश कांग्रेस ने नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कमर कस ली है. इस बार कांग्रेस रणनीति बदलकर चुनाव लड़ेगी. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने नेताओं से कहा है कि ये चुनाव महत्वपूर्ण हैं. इसलिए पंचायत और निकाय चुनाव को एकजुटता के साथ लड़ें. उन्होंने चुनाव को लेकर विधायकों को कई जिम्मेदारियां सौंपी. खास बात यह है कि कांग्रेस ने बैठक कर तय किया है कि इस बार प्रत्याशी का चयन सभी की रायशुमारी से तय किया जाए, ताकि कार्यकर्ताओं के बीच सही संदेश जाए.

बताया जा रहा है कि कांग्रेस के विधायकों ने बैठक कर यह रणनीति भी बनाई है कि चुनाव के दौरान जनता के बीच मुद्दे क्या उठाए जाएं. कांग्रेस चुनाव में ओबीसी आरक्षण, बेरोजगारी और महंगाई को जोर-शोर से मुद्दा बनाएगी. इसके अलावा प्रदेश में बढ़ते सांप्रदायिक तनाव और मॉब लिचिंग की घटनाओं को भी मुद्दों में शामिल किया जाएगा. नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, वरिष्ठ नेता अरुण यादव, अजय सिंह, विवेक तंखा और सुरेश पचौरी जैसे नेताओं ने कार्यकर्ताओं को मिलकर काम करने की नसीहत दी.


आदिवासियों पर फोकस

बता दें, मध्य प्रदेश के आदिवासियों पर हुए अत्याचार को लेकर प्रदेश कांग्रस अध्यक्ष कमलनाथ ने अदिवासी विधायकों की बैठक बुलाई. इसमें सिवनी, मंडला और नेमावर की घटनाओं पर विस्तार से चर्चा की गई. बैठक में इस बात पर मंथन किया गया कि आदिवासियों की रक्षा कैसे की जाए. इस दौरान इस मुद्दे पर सरकार की घेराबंदी के लिए भी रणनीति तैयार की गई. बैठक में फैसला लिया गया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष 23 मई को सिवनी जाएंगे और मृतक आदिवासी परिवार से मुलाकात करेंगे. कमलनाथ के सिवनी जाने से आदिवासियों के मुद्दे पर सियासत गर्मा सकती है. बता दें, कि सिवनी में गौकशी के शक में दो आदिवासियों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

आपके शहर से (भोपाल)

24 साल से मंदिर में बंद है लड़की, 8 साल की उम्र में लिया वैराग्य, पूजा कर लोग चढ़ाते हैं प्रसाद

एमपी पंचायत चुनाव: प्रत्याशियों की गैरहाजिरी में हुई मतगणना, इस पोलिंग बूथ पर मचा बवाल

पत्नी की पिटाई देख पुलिस के भी उड़े होश, इस वजह से जल्लाद बन बैठा पति; मौके से हुआ फरार

गर्लफ्रेंड से मिलने पहुंचा प्रेमी, वो निकली बहन, दोनों थे रिश्ते थे अनजान; परिजनों ने पेड़ से बांधा और फिर...

पाकिस्तानी बॉयफ्रेंड के प्यार में पागल हुई लड़की, यहां से क्रॉस कर रही थी बॉर्डर, लेकिन...

एमपी: नक्सलियों को सरेंडर कराएगी सरकार, घर-जमीन के साथ-साथ इतने लाख देगी कैश

रणजी ट्रॉफी फाइनल: 88 साल में पहली बार एमपी टीम ने किया चमत्कार, सीएम ने दी बधाई

भारतीय रेलवे: एमपी से भी चलेगी स्वदेश दर्शन टूरिज्म ट्रेन, इतना होगा किराया, ऐसे कराएं बुकिंग

एमपी पंचायत चुनाव: रात में खाना खाकर सोई, सुबह नहीं उठी इस गांव की नई सरपंच; पसरा मातम

रणजी ट्रॉफी के फाइनल में शानदार प्रदर्शन करने वाले बल्लेबाज यश दुबे का इस जिले से है खास नाता

एमपी: आपके काम की खबर, अगर यूपी जा रहे हैं तो रात में इस पुल से न जाएं, ये है वजह


पेट्रोल, डीजल पर जनता को राहत दें सीएम- पटवारी

दूसरी ओर, पेट्रोल-डीजल की कीमत कम होने पर पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि पहले तो पेट्रोल-डीजल के दाम इतने ज्यादा बढ़ा दिए और फिर जब चारों तरफ असंतोष हो गया, तब थोड़े दाम कम कर दिए. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी पेट्रोल-डीजल पर लगने वाले तमाम टैक्स को कम करके जनता को राहत देनी चाहिए.

Tags:Bhopal news, Mp news