Home / News / madhya-pradesh /

53 year old man consumed poison for calling hijra and manhoos died on spot shocking crime suicide case mpns

‘हिजड़ा और मनहूस’ शब्द नहीं सुन सका 53 साल का पड़ोसी, उठाया ये खौफनाक कदम

Jabalpur Crime: एमपी की जबलपुर पुलिस ने आत्महत्या के मामले में पड़ोसियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

Jabalpur Crime: एमपी की जबलपुर पुलिस ने आत्महत्या के मामले में पड़ोसियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

Suicide Case: मध्य प्रदेश के जबलपुर में एक महीने पहले हुए मुरली खत्री आत्महत्या मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस ने जांच के बाद पड़ोसियों पर मामला दर्ज कर लिया है. दरअसल, पड़ोसी गोहलपुर थाना इलाके में रहने वाले 53 साल के मुरली को ‘हिजड़ा और मनहूस’ कहकर बुलाते थे. सरेराह होने वाले इस अपमान से मुरली को मानसिक प्रताड़ना हुई थी. इस आघात को वह सह नहीं सका और जहर खा लिया. पुलिस ने अपराध की धाराएं बढ़ा दी हैं.

जबलपुर. मध्य प्रदेश की जबलपुर पुलिस ने एक महीने पहले हुए मुरली खत्री आत्महत्या मामले में पड़ोसियों पर मामला दर्ज कर लिया है. गोहलपुर थाना इलाके में रहने वाले आरोपी पड़ोसी 53 साल के मुरली को ‘हिजड़ा और मनहूस’ कहकर बुलाते थे. इससे तंग आकर उसने जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी. पुलिस को मृतक के शव के पास सुसाइड नोट मिला था. उसकी जांच के एक महीने बाद पुलिस ने अपराध की धाराएं बढ़ा दी हैं. केस दर्ज होने के बाद आरोपी फरार हो गए हैं.

गौरतलब है कि एक महीने पहले गोहलपुर थाना इलाके में उस वक्त सनसनी फैल गई थी, जब मुरली खत्री ने आत्महत्या कर ली थी. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची थी और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया था. पुलिस को शव के पास से सुसाइड नोट भी मिला था. इसमें दो महिलाओं सहित 4 लोगों का जिक्र था. मृतक ने सुसाइड नोट में लिखा था कि उसे पड़ोसी हिजड़ा और मनहूस कहते हैं. वे बार-बार उसे मानसिक प्रताड़ित करते हैं. पुलिस ने सुसाइड नोट लिया और जांच आगे बढ़ाई.


जांच में सामने आई ये बात

आपके शहर से (जबलपुर)

गर्लफ्रेंड से मिलने पहुंचा प्रेमी, वो निकली बहन, दोनों थे रिश्ते थे अनजान; परिजनों ने पेड़ से बांधा और फिर...

एमपी: बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने बोला हमला, कहा- कांग्रेस में अंग्रेजों के जीन्स, इनका खात्मा जरूरी

एमपी: आपके काम की खबर, अगर यूपी जा रहे हैं तो रात में इस पुल से न जाएं, ये है वजह

24 साल से मंदिर में बंद है लड़की, 8 साल की उम्र में लिया वैराग्य, पूजा कर लोग चढ़ाते हैं प्रसाद

रणजी ट्रॉफी फाइनल: 88 साल में पहली बार एमपी टीम ने किया चमत्कार, सीएम ने दी बधाई

एमपी पंचायत चुनाव: प्रत्याशियों की गैरहाजिरी में हुई मतगणना, इस पोलिंग बूथ पर मचा बवाल

महाराष्ट्र सियासी उठापटक का एमपी कनेक्शन! नामी नेता गोपनीय तरीके से पहुंचे इंदौर, उठ रहे सवाल

एमपी पंचायत चुनाव: रात में खाना खाकर सोई, सुबह नहीं उठी इस गांव की नई सरपंच; पसरा मातम

पाकिस्तानी बॉयफ्रेंड के प्यार में पागल हुई लड़की, यहां से क्रॉस कर रही थी बॉर्डर, लेकिन...

रणजी ट्रॉफी के फाइनल में शानदार प्रदर्शन करने वाले बल्लेबाज यश दुबे का इस जिले से है खास नाता

पत्नी की पिटाई देख पुलिस के भी उड़े होश, इस वजह से जल्लाद बन बैठा पति; मौके से हुआ फरार


पुलिस एक महीने तक मुरली की आत्महत्या की जांच करती रही. साक्ष्य जुटाने के लिए पुलिस ने आसपड़ोस और अन्य लोगों से बात की. इस बीच पता चला कि पड़ोसी पड़ोसी सुनील सोनी, रोशनी सोनी, राजेश पटेल, पूजा पटेल उसे मानसिक परेशान किया करते थे. वह जब भी घर से निकलता उसे कुछ न कुछ कहकर टोकते थे. हद तो तब हो गई जब इन लोगों ने मृतक को सरेराह भिखारी-हिजड़ा और नामर्द कहना शुरू कर दिया. इस बात से मृतक को गहरा आघात लगा था.

अब बुजुर्ग मां की देख-रेख करने वाला कोई नहीं

गौरतलब है कि मुरली खत्री अपनी बुजुर्ग मां के साथ किराए के मकान में रहता था. वह मोहल्ले में घूम-घूम कर सब्जी बेचता था. उसकी मौत के बाद अब उसकी बुजुर्ग मां की देख-रेख करने वाला कोई नहीं है. सीएसपी अखिलेश गौर का कहना है कि मुरली ने आत्महत्या कर ली थी. उसके शव के पास सुसाइड नोट मिला था. पुलिस ने उस सुसाइड नोट में जिक्र की गई बातों की जांच की और तथ्य जुटाए. इसमें पड़ोसियों की प्रताड़ना की बात सामने आई है. आरोपी फिलहाल फरार हैं. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

Tags:Jabalpur news, Mp news