लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency
होम / न्यूज / मध्य प्रदेश /

Shocking : एमपी में नहीं है खाद की किल्लत! फिर खरीद केंद्रों पर क्यों है ये मारामारी और परेशानी

Shocking : एमपी में नहीं है खाद की किल्लत! फिर खरीद केंद्रों पर क्यों है ये मारामारी और परेशानी

OMG. मध्यप्रदेश में खाद की कमी से परेशान किसानों की तस्वीरें सामने आ रही हैं. इसी तरह शिवपुर जिले में भी किसान खाद की आपूर्ति न होने के चलते परेशान हैं. जिले के खाद खरीद केंद्रों पर चार-पांच दिनों से स्टॉक में यूरिया उपलब्ध ही नहीं है. इसके चलते न्यूज़ 18 ने जिले के खाद खरीदी केंद्र पर पहुंचकर जमीनी हकीकत देखी. इसमें सामने आया कि खरीदी केंद्रों पर डीएपी के लिए भी किसानों को लंबी लाइनों में खड़ा होना पड़ रहा है. सरकार के निर्देश हैं कि खरीदी केंद्रों पर छाया और पीने के पानी की व्यवस्था की जाए. लेकिन जिला प्रशासन ने सरकारी निर्देशों की अनदेखी कर खरीदी केंद्रों पर पीने के पानी और छाया की कोई व्यवस्था नहीं की है.

श्योपुर जिले में सरकारी निर्देशों की बावजूद खाद खरीदी केंद्रों पर छाया और पीने के पानी की व्यवस्था नहीं की गई है.

श्योपुर जिले में सरकारी निर्देशों की बावजूद खाद खरीदी केंद्रों पर छाया और पीने के पानी की व्यवस्था नहीं की गई है.

श्योपुर. मध्य  प्रदेश में खाद की समस्या विकराल हो चुकी है. श्योपुर जिले से जो तस्वीर आयी है वो चिंताजनक है. किसानों को खाद की बेहद किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. स्थिति ये है कि श्योपुर जिला मुख्यालय के खाद खरीदी केंद्रों पर पिछले चार-पांच दिनों से यूरिया खाद उपलब्ध ही नहीं है. डीएपी के लिए भी किसान लंबी-लंबी लाइनों में खड़े होने को मजबूर हैं. न्यूज़ 18 ने खरीदी केंद्रों पर पहुंचकर जमीनी हकीकत देखी तो केंद्रों पर किसानों के लिए सिर पर छाया और पीने के पानी के इंतजाम तक नहीं हैं.

बीते दिनों प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि प्रदेश में खाद की किल्लत नहीं है. इसके बावजूद प्रदेश के अलग-अलग जिलों से खाद की किल्लत की तस्वीरें सामने आ रही हैं. रबी के सीजन की सरसों और गेहूं आदि फसलों की बुवाई का समय तेजी से निकलता जा रहा है. लेकिन जिला प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी किसानों को पर्याप्त मात्रा में खाद उपलब्ध नहीं करा पा रहे हैं. डीएपी उपलब्ध है लेकिन उसके लिए भी किसानों को लंबी लाइनों में खड़े रहकर दिनभर मशक्कत करनी पड़ रही है.

सरकारी निर्देशों को भी अनसुना कर रहा जिला प्रशासनखास बात यह है कि सरकार के स्पष्ट निर्देशों के बाद भी खाद बिक्री केंद्रों पर प्रशासन ने छाया और पानी तक के इंतजाम नहीं किए. इन हालातों में किसानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. किसानों का कहना है उन्हें पानी पीने के लिए खाद बिक्री केंद्र से कुछ दूरी पर लगे हेडपंप पर पहुंचना पड़ता है. छाया के इंतजाम नहीं है इस वजह से लोग धूप में खड़े रहने के लिए मजबूर हैं. लेकिन जिम्मेदार किसानों की समस्या को सुनने तैयार नहीं हैं. खाद के लिए बड़ौदा, ढोढर, मानपुर, वीरपुर, विजयपुर और कराहल से लेकर जिला मुख्यालय श्योपुर खरीदी केंद्र पर भी किसान परेशान हैं.

ये भी पढ़ें-भ्रष्टाचार पर मेहरबान सरकार! 280 अफसरों के खिलाफ जांच लंबित, ईओडब्ल्यू को नहीं मिली मंजूरी

जिम्मेदार अधिकारी बात करने को भी तैयार नहींसुबह से शाम होने तक किसान लाइन में धक्के खाने को मजबूर हैं हालात किसी से छुपे नहीं है. फिर भी जिम्मेदार उनकी सुध नहीं ले रहे हैं. इससे किसानों का आक्रोश बढ़ रहा है. न्यूज़ 18 ने जिला मुख्यालय के खाद खरीदी केंद्रों पर पहुंचकर जमीनी हकीकत देखी तो सामने आया कि वहां ना तो छाया का कोई इंतजाम है. ना ही किसानों के पीने के लिए पानी की व्यवस्था है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Madhya pradesh latest news, Madhya pradesh news, Madhya Pradesh News Updates, Sheopur news, Shocking news

FIRST PUBLISHED : November 21, 2022, 20:13 IST
अधिक पढ़ें