भाषा चुनें :

हिंदी

भारतीय रेल की एक और पहल, शनिवार से चलेगी बुद्धिस्ट सर्किट टूरिस्ट ट्रेन

यह ट्रेन श्रद्धालुओं को बुद्ध से जुड़ी हुई जगहों तक लेकर जाती है. यह ट्रेन दिल्ली से निकलकर गया, बोधगया, राजगीर, नालंदा, वाराणसी, सारनाथ, नेपाल के लुम्बिनी, कुशीनगर और श्रावस्ती होते हुए वापस दिल्ली आएगी.

Chandan Kumar | News18Hindi |

भारतीय रेल (Indian Railway) की बुद्धिस्ट सर्किट टूरिस्ट ट्रेन (Buddhist circuit tourist train) नए सीज़न में चलने के लिए तैयार है. 8 दिन और 7 रातों के लिए ट्रेन शनिवार को दिल्ली के सफ़दरजंग स्टेशन से रवाना होगी. यह ट्रेन श्रद्धालुओं को बुद्ध से जुड़ी हुई जगहों तक लेकर जाती है. यह ट्रेन दिल्ली से निकलकर गया, बोधगया, राजगीर, नालंदा, वाराणसी, सारनाथ, नेपाल के लुम्बिनी, कुशीनगर और श्रावस्ती होते हुए वापस दिल्ली आएगी. ट्रेन में सफर करने वालों को बनारस की आरती और आगरे के ताजमहल को देखने का भी मौका मिलेगा.


इस ट्रेन में सीट और किराया इतना हैं

इस ट्रेन में एसी-1 (AC-1) की 60 सीटें जबकि एसी-2 (AC-2) की 96 सीटें हैं. ट्रेन के किराये की बात करें तो पूरे पैकेज के लिए एक कपल का एसी-1 का किराया क़रीब 1 लाख 24 हज़ार रुपये है जबकि एसी-2 का किराया क़रीब 1 लाख रुपये है. अकेले मुसाफिर के लिए यह किराया क़रीब 82 हज़ार और 67 हज़ार है.

इस ट्रेन में एसी-1 (AC-1) की 60 सीटें जबकि एसी-2 (AC-2) की 96 सीटें हैं. ट्रेन के किराये की बात करें तो पूरे पैकेज के लिए एक कपल का एसी-1 का किराया क़रीब 1 लाख 24 हज़ार रुपये है जबकि एसी-2 का किराया क़रीब 1 लाख रुपये है. अकेले मुसाफिर के लिए यह किराया क़रीब 82 हज़ार और 67 हज़ार है.




वेज के साथ मिलेगा नॉनवेज भी

एक हफ़्ते के इस सफर में मुसाफिरों को वेज और नॉन वेज हर तरह का खाना दिया जाता है. ट्रेन में बेहतरीन डायनिंग हॉल भी है. 64 लोगों के बैठकर भोजन करने की क्षमता वाले दो विशेष डाइनिंग कार और एक पैंट्री कार शामिल है. जबकि लोकल ट्रैवल लक्ज़री बसों से किया जाता है. ट्रेन में मुसाफिरों के लिए बुद्ध से जुड़े हुए साहित्य और किताबों की लाइब्रेरी भी मौजूद है. इस सीज़न की पहली ट्रिप के लिए ट्रेन की आधी सीटें बुक हो चुकी हैं. अक्टूबर के लेकर मार्च तक यह ट्रेन 12 राउंड चलेगी.




और भी कई सुविधाएं हैं इसमें

इसमें प्राइवेट डिजिटल लॉकर, नहाने के लिए स्पेशल रूम (क्यूबिकल शावर), पैरों की मसाज की सुविधा, अलग से बैठक क्षेत्र और सोफा से लैस होगी. रेलवे ने बताया कि हर कोच में निजी सुरक्षा गार्ड तैनात किए जाएंगे. इसमें नेपाल यात्रा के लिए एसी डीलक्स कोच से सड़क परिवहन, स्थानों और स्मारकों का दर्शन, रहने की सुविधा, भोजन, टूर मैनेजर, गाइड, एंट्री फी और यात्रा बीमा की सेवा शामिल होगी.


ये भी पढ़ें : देश की सबसे बड़ी कंपनी जिसकी मार्केट कैपिटल वैल्यू 9 लाख करोड़ रुपए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.