लेटेस्ट खबरेंमनीअजब-गजबबजट 2023क्रिकेटफूडमनोरंजनवेब स्टोरीजफोटोकरियर/ जॉब्सलाइफस्टाइलहेल्थ & फिटनेसशॉर्ट वीडियोनॉलेजलेटेस्ट मोबाइलप्रदेशपॉडकास्ट दुनियाराशिNews18 Minisसाहित्य देशक्राइमLive TVकार्टून कॉर्नर#MakeADent #RestartRight #HydrationforHealth#CryptoKiSamajhCryptocurrency

ट्रेंडिंग

और भी पढ़ें
होम / न्यूज / राष्ट्र /

कमलनाथ ने बीजेपी, RSS और VHP को दी चुनौती, कहा- राहुल गांधी से धर्म और अध्यात्म पर कर लें बहस

कमलनाथ ने बीजेपी, RSS और VHP को दी चुनौती, कहा- राहुल गांधी से धर्म और अध्यात्म पर कर लें बहस

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मध्य प्रदेश में 'भारत जोड़ो यात्रा' के अंतिम दिन संवाददाताओं से कहा, 'मैं बीजेपी, आरएसएस और वीएचपी नेताओं को चुनौती देता हूं कि वे मीडियाकर्मियों के सामने धर्म और अध्यात्म के मुद्दे पर राहुल गांधी के साथ बैठ जाएं और बहस कर लें.'

कमलनाथ ने कहा कि राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो' यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश में संविधान और संस्कृति को बचाना है. (फाइल फोटो- Facebook@Kamal Nath)

कमलनाथ ने कहा कि राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो' यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश में संविधान और संस्कृति को बचाना है. (फाइल फोटो- Facebook@Kamal Nath)

सोयतकलां (एमपी). कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने रविवार को बीजेपी, आरएसएस और वीएचपी नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि वे धर्म और अध्यात्म के मुद्दे पर पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी के साथ चर्चा करें, जिससे साबित हो जाएगा कि इन विषयों पर राहुल को इन लोगों की तुलना में अधिक ज्ञान है.

कमलनाथ ने मध्य प्रदेश में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के अंतिम दिन आगर मालवा जिले के सोयतकलां में संवाददाताओं से कहा, ‘मैं बीजेपी, आरएसएस और वीएचपी नेताओं को चुनौती देता हूं कि वे मीडियाकर्मियों के सामने धर्म और अध्यात्म के मुद्दे पर राहुल गांधी के साथ बैठ जाएं और बहस कर लें.’ उन्होंने कहा कि चर्चा से साबित होगा कि राहुल को बीजेपी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) के लोगों की तुलना में धर्म और अध्यात्म का अधिक ज्ञान है.

कमलनाथ ने यह भी कहा कि राहुल की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश में संविधान और संस्कृति को बचाना है. उन्होंने कहा कि यात्रा ने 23 नवंबर को पहली बार किसी हिंदी भाषी क्षेत्र मध्य प्रदेश में प्रवेश किया और राज्य में इसे लोगों से भारी समर्थन मिला है. कमलनाथ ने कहा, ‘भीड़ देखकर मुझे ताजुब्ब हुआ. राज्य के सुदूर इलाकों से जो लोग आ रहे हैं, हमने उन्हें आने के लिए आदेश नहीं दिया है. यह इस यात्रा की सफलता को साबित करता है.’

आपके शहर से (भोपाल)

इंदौर की गृहिणियों के हाथ का बना खाना अब पहुंचेगा देश-दुनिया तक, आप भी लीजिए व्यंजनों का स्वाद

MP News: चित्रकूट जा रहे हैं तो हो जाएं सतर्क, यहां सड़क पर बैठे या पार करते दिख जाएंगे बाघ

Bhopal News: बकाया बिल होने पर Electricity Department ने निकाला Transformet | Latest News | news18

टीचर की दोनों किडनी खराब, डॉक्‍टर बोले- अब चंद दिनों के मेहमान, फिर भी छात्रों को रोज पढ़ाने आते हैं स्‍कूल

Bhopal News: रोड बनवाने के लिए अनोखा प्रदर्शन, बीच सड़क सजाई महफिल और गाई कव्वाली

Shivpuri News: सुबह चार बजे इंदौर-देहरादून एक्सप्रेस के सामने कूद गई महिला, मौके पर मौत

Shivpuri News: वनकर्मी मांग रहा था घूस, किसान ने दिया कानून का घूंसा, जानें पूरा मामला

ग्वालियर-चंबल में BJP बनाम कांग्रेस, सिंधिया के तंज पर कमलनाथ ने ली चुटकी, पढ़ें क्यों भिड़े दिग्गज

बयान पर विवाद : मोहन भागवत से दिग्विजय का सवाल, संघ प्रमुख बताएं-क्या हमारे शास्त्र गलत हैं..

दिलफेंक जीजा की कारस्‍तानी, पत्‍नी और 4 बच्‍चों को छोड़ कर साली से रचाई शादी, पता चला तो...

OMG! रेपिस्ट को सजा दिलाने कब्र से बाहर आएंगे सुराग, नवजात के शव का होगा DNA टेस्ट


पिछले 12 साल से राहुल गांधी की छवि पर सोशल मीडिया के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) द्वारा लगातार हमला किए जाने का आरोप लगाते हुए कमलनाथ ने कहा कि इस यात्रा ने लोगों के बीच राहुल गांधी की छवि को सुधारने में मदद की है. उन्होंने कहा कि बीजेपी कहती थी कि यात्रा केरल में ही समाप्त हो जाएगी, लेकिन उसे हर जगह भारी जन समर्थन मिल रहा है और लोग राहुल के प्रति अपना प्यार जताने खुद आ रहे हैं.

कमलनाथ ने कहा कि यात्रा को मध्य प्रदेश के लोगों, विशेष रूप से आम आदमी, महिलाओं और बच्चों से भारी समर्थन मिला है. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कन्याकुमारी से शुरू होकर श्रीनगर तक जाने वाली इस यात्रा के बाद संभावना है कि राहुल पूर्व से पश्चिम की ओर एक और यात्रा पर निकालें. उन्होंने कहा कि राहुल ने खुद कहा कि उनकी इस यात्रा को मध्य प्रदेश में विशेष रूप से इंदौर में भारी समर्थन मिला.

कमलनाथ ने कहा कि यात्रा के दौरान राहुल ने किसानों, छोटे व्यापारियों, दुकानदारों, महिलाओं, दिव्यांगों, बुनकरों, आदिवासियों, दलितों और सफाई कर्मचारियों के साथ बातचीत की. यह यात्रा आज शाम राजस्थान में प्रवेश करेगी.

मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने भी मीडिया को संबोधित किया. इस दौरान कमलनाथ ने राज्य में यात्रा को सफल बनाने के लिए लोगों, पार्टी कार्यकर्ताओं और मीडिया के प्रति आभार व्यक्त किया.

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज 88वां दिन है. गांधी की अगुवाई वाली यह यात्रा महाराष्ट्र से गुजरने के बाद बुरहानपुर जिले के बोदरली गांव से मध्य प्रदेश में 23 नवंबर को दाखिल हुई थी और पिछले 12 दिनों में इस यात्रा ने राज्य में करीब 370 किलोमीटर की दूरी तय की है. यात्रा के आज राजस्थान में प्रवेश करने पर कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई चांवली गांव में राजस्थान की टीम को राष्ट्रीय ध्वज सौंपेगी.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Tags: Bharat Jodo Yatra, Kamal nath, Rahul gandhi

FIRST PUBLISHED : December 04, 2022, 17:09 IST
अधिक पढ़ें